बुरी तरह बाढ़ की चपेट में आया असम, तेज बारिश से 4 लोगों की मौत व लाखों लोग प्रभावित
बुरी तरह बाढ़ की चपेट में आया असम, तेज बारिश से 4 लोगों की मौत व लाखों लोग प्रभावितSocial Media

बुरी तरह बाढ़ की चपेट में आया असम, तेज बारिश से 4 लोगों की मौत व लाखों लोग प्रभावित

असम बारिश के कारण बुरी तरह बाढ़ की चपेट में आ चुका है। बाढ़ का कहर इस कदर बढ़ गया है कि, अब तक 4 लोगों की मौत व लाखों लोग प्रभावित हो चुके हैं। हालांकि, इससे पहले भी असम में इस तरह के हालात बन चुके है।

असम, भारत। देश के कई राज्यों में मानसून ने दस्तक दे दी है। ऐसे में कई राज्यों में तेज बारिश होना शुरू हो चुकी है। कुछ राज्य ऐसे भी है जहां बारिश के कारण जल प्रवाह रुक ही नहीं रहा है। इन राज्यों में केरल और असम जैसे राज्यों का नाम शामिल हैं। इन राज्यों में असम बारिश के कारण बुरी तरह बाढ़ की चपेट में आ चुका हैं। असम में बाढ़ का कहर इस तरह बढ़ गया है कि, वहां अब तक 4 लोगों की मौत और लाखों की संख्या में लोग प्रभावित हो चुके हैं। हालांकि, इससे पहले भी असम में बाढ़ से इस तरह के हालात बन चुके है। तब भी यहां तबाही का मंजर देखने को मिला था।

बाढ़ की चपेट में आए लाखों लोग प्रभावित :

इन दिनों कई राज्यों में बारिश होना शुरू हो चुकी है, लेकिन असम में लगातार हो रही बारिश ने विकराल रूप ले लिया है। यहां हुई भारी बारिश ने बाढ़ का रूप ले लिया है। बाढ़ के कारण हालात बहुत ही बद से बदतर होते नजऱ आ रहे हैं,चारों तरफ नजरें उठाओ तो पानी ही पानी नज़र आ रहा है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (SDMA) द्वारा शुक्रवार को मरने वाले और प्रभावित हुए लोगों का आंकड़ा जारी किया। जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक असम राज्य में अब तक बाढ़ की चपेट में आने से 4 लोगों की मौत हो गई है और असम के 25 जिलों में कुल 11 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। बाढ़ के कारण पानी लोगों के घरों और सड़कों पर भर गया है। प्रदेश का रेल संपर्क बुरी तरह प्रभावित हो चुका है। ट्रेन बाढ़ की चपेट में आकर पानी में डूबी नज़र आ रही है। असम में तबाही का यह मंजर प्री-मानसून के चलते छाया हुआ है।

SDMA के अधिकारीयों ने बताया :

असम का हाल इन दिनों ऐसा है कि, न सड़क पर कोई वाहन चलाया जा सकता है और न ही रेल की पटरियों पर ट्रेनें। गाड़ियां पानी में तैरती हुई दिखाई दे रही हैं। जबकि, बाढ़ और भूस्खलन से कछार जिले में दो और लोगों की मौत हो गई। इन मौतों के बाद मरने वालो की कुल संख्या बढ़कर 7 हो गई है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (SDMA) के अधिकारियों ने बताया है कि, 'पिछले 24 घंटे में चार लोगों की मौत हो गई है. साथ ही 25 जिलों के 11.09 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। असम के कई इलाकों में मानस, पगलाड़िया, पुथिमारी, कोपिली, गौरांग और ब्रह्मपुत्र नदियों का जलस्‍तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच चुका है। वहीं असम के नलबाड़ी जिले में बाढ़ का पानी रेलवे ट्रैक में भर गया। इसके कारण भारत को पूर्वोत्तर से जोड़ने वाला रेल यातायात प्रभावित हुआ है।'

ट्रेनों को किया गया रद्द :

नॉर्थ ईस्‍ट फ्रंटियर रेलवे ने जानकारी दी है कि, 'भारी बारिश और बाढ़ के कारण 6 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और 4 ट्रेन आंशिक रूप से रद्द की गई हैं। साथ ही 7 रेलगाड़ियों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है। गुवाहाटी में इस महीने अब तक 385.4 मिमी बारिश हो चुकी है, जबकि जून के महीने में गुवाहाटी में औसतन 174 मिमी बारिश होती है। इस बार गुवाहाटी में 121 फीसदी अधिक बारिश हुई है। बाढ़ के चलते प्रभावित जिलों की 19782.80 हेक्टेयर फसल जमीन जलमग्न हो गई है। राज्य सरकार ने बताया है कि, अब तक 72 राजस्व मंडलों के अंतर्गत आने वाले 1,510 गांवों में पानी बुरी तरह आभार गया हैं। भारी बारिश के चलते शुक्रवार को चेतावनी जारी कर दी गई है। इतना ही नहीं जिले में सभी शैक्षणिक संस्थान भी बंद हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co