बर्फ के कारण ध्वस्तीकरण का काम बंद
बर्फ के कारण ध्वस्तीकरण का काम बंदSocial Media

उत्तराखंड में भारी बर्फबारी- बर्फ के कारण काम नहीं कर पा रहे मजदूर, ध्वस्तीकरण का काम बंद

Snowfall in Uttarakhand : जोशीमठ में हुई तेज़ बर्फ़बारी के चलते तोड़-फोड़ का काम बंद करवा दिया हैं, चमोली के डीएम ने बताया, मजदूर नहीं कर पाएंगे काम।

उत्तराखंड, भारत। मौसम के तीखे तेवर अभी भी जारी हैं, इसी तेवर के बीच आज जोशीमठ में तेज़ बर्फ़बारी हुई, जिसके चलते तोड़-फोड़ का काम बंद करवा दिया गया है। चमोली के डीएम ने बतया कि, इतनी तेज़ बर्फ़बारी में मजदूर काम नहीं कर पाएंगे जिसकी वजह से ध्वस्तीकरण का काम रोका गया है। बर्फ़बारी के थमने के बाद फिर काम शुरू करेंगे।

राज्य में ऑरेंज अलर्ट किया था जारी :

मौसम विभाग की मानें तो आने वाले दिनों में बर्फबारी का ये सिलसिला जारी रहने वाला है। बता दें कि, उत्तराखंड मौसम विभाग ने कुछ दिन पहले ही राज्य में 24 से 27 जनवरी को भारी बारिश और ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी होने का अलर्ट जारी किया था। राज्य मौसम विभाग ने इसके लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। बर्फ़बारी की वजह से जोशीमठ में चल रहे काम को रोका गया हैं। मजदूर तेज़ बर्फ़बारी काम नहीं कर पा रहे थे जिसकी वजह से काम को रुकवा दिया हैं इसकी जानकारी देते हुए चमोली के ज़िलाधिकारी कहते हैं-

"राहत शिविरों में लोगों को सारी व्यवस्थाएं दे रहे हैं। बर्फ के कारण मजदूर काम नहीं कर पाएंगे इसलिए (ध्वस्तीकरण) का काम रोका है। बर्फबारी के बाद काम फिर शुरू करेंगे।"

चमोली के ज़िलाधिकारी

भारी बारिश और बर्फबारी की सभांवानाओं के चलते भू-धंसाव की समस्या झेल रहे जोशीमठ में हालात बिगड़ सकते हैं। बारिश और बर्फबारी से भू-धंंसाव का खतरा और खतरनाक हो सकता है। गौरतलब है कि जोशीमठ में लगातार बढ़ रहे भू-धंसाव से अब स्थिति बेहद गंभीर होती जा रही है। यहां जांच करने आए वैज्ञानिक भी अब सुरक्षित नही हैं। जिस जीएमवीएन के गेस्ट हाउस में वैज्ञानिक रुके थे, उसमें दरारें आ गई हैं। यह गेस्ट हाउस भी अब भू-धंसाव की रेंज में आता जा रहा है

नेशनल हाईवे पर यातायात हुआ ठप :

केदारानाथ में भारी बर्फबारी हुई, तो वहीं, मौसम खराब होने की वजह से रामबन और बनिहाल के बीच जम्मू श्रीनगर नेशनल हाईवे पर दोनों तरफ से यातायात ठप हो गया है। उत्तराखंड से लेकर जम्मू-कश्मीर तक बर्फबारी देखने को मिल रही है। मौसम विभाग के अनुसार पहाड़ों पर बर्फबारी का दौर अभी कुछ दिनों तक जारी रहने वाली है। वहीँ उत्तराखंड के जोशीमठ, धनौलटी, केदारनाथ, मसूरी और पिथौरगढ़ में भारी बर्फबारी देखने को मिली हैं। मौसम विभाग की मानें तो आज यानी 20 जनवरी से एक पश्चिमी विक्षोभ का असर पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में दिखेगा जिस कारण से पहाड़ों पर बर्फबारी की गतिविधियां दिखेंगी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co