कोरोना काल में तौकते की आई आफत- शाह ने मीटिंग कर इस बात पर विशेष जोर दिया
कोरोना काल में तौकते की आई आफत- शाह ने मीटिंग कर इस बात पर विशेष जोर दियाSocial Media

कोरोना काल में तौकते की आई आफत- शाह ने मीटिंग कर इस बात पर विशेष जोर दिया

चक्रवाती तूफान तौकते पर आज गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र, गुजरात के CM के साथ मीटिंग की और इस दौरान उन्‍होंने इस बात का विशेष ध्यान देने को कहा है...

चक्रवाती तूफान तौकते : देश में महामारी कोरोना के संकटकाल के बीच अब एक और प्राकृतिक आपदा की एंट्री हो गई है। इस बीच अरब सागर से उठा इस साल का पहला चक्रवाती तूफान 'तौकते' को लेकर 5 राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। तो वहीं, आज गृह मंत्री अमित शाह ने भी तौकते को लेकर मुख्‍यमत्रियों के साथ बैठक की है।

बैठक में चक्रवात को लेकर शाह ने कहा :

चक्रवाती तूफान 'तौकते' पर हुई गृह मंत्री अमित शाह की इस मीटिंग केे दौरान महाराष्ट्र, गुजरात के CM और दादर नागर हवेली, दमन और डीयू के प्रशाशक मौजूद रहे। मीटिंग में गृहमंत्री शाह ने इस बात पर जोर देते हुए कहा है कि, ''साइक्लोन में कोरोना से पीड़ित लोगों के ऊपर किसी तरह का प्रभाव ना पड़े इसपर विशेष ध्यान देना होगा। साइक्लोन में कोरोना अस्पताल में बिजली की सप्लाई ना रुके इसपर ध्यान रखा जाए। साइक्लोन के चलते ऑक्सीजन सप्लाई निर्वाध चलता रहे इसपर भी विशेष ध्यान दिया जाय।''

भारतीय मौसम विभाग (IMD) द्वारा शनिवार शाम में कहा- चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ और मजबूत हो गया है और यह गुजरात तट एवं केंद्र शासित प्रदेश दमन-दीव एवं दादर-नगर हवेली तट की ओर बढ़ रहा है। तूफान के शनिवार देर रात तक ‘‘बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान’’ में तब्दील होने की संभावना है। इसके उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 18 मई की दोपहर के आसपास पोरबंदर और नलिया के बीच गुजरात तट को पार करने की संभावना है।

मुंबई से 580 कोरोना मरीज सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट :

तो वहीं, चक्रवाती तूफान तौकते के अलर्ट के चलते शनिवार रात को बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने कोविड केयर सेंटर से 580 मरीजों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया है। दहिसर से 183 मरीज, बीकेसी से 243 मरीज एवं मुलुंड से 154 मरीजों जंबो सेंटर्स से सुरक्षित निकालकर भेजे गए हैं।

चक्रवात 'तौकते' के नाम के बारे में अहम जानकारी :

चक्रवात तूफान 'तौकते' को लेकर सभी के मन से एक सवाल आता होगा की इस तूफान का नाम तौकते ही क्‍यों है और क्‍या है इसका मतलब, तो हम बताते चले कि, चक्रवात 'तौकते' का नाम म्यांमार ने दिया है, इसका मतलब बहुत शोर मचाने वाली छिपकली है। यह भी बता दें कि, बंगाल की खाड़ी व अरब सागर के चक्रवातों का नाम 'उष्णकटिबंधीय चक्रवातों पर विश्व मौसम विज्ञान संगठन/एशिया व प्रशांत क्षेत्र के लिए संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक व सामाजिक आयोग (डब्ल्यूएमओ/ईएससीएपी) का पैनल' द्वारा रखा जाता है और इस पैनल में भारत समेत 13 देश शामिल हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co