गुरुग्राम : मेदांता अस्पताल में भर्ती राम रहीम से मिलने पहुंची हनीप्रीत
मेदांता अस्पताल में भर्ती राम रहीम से मिलने पहुंची हनीप्रीतSocial Media

गुरुग्राम : मेदांता अस्पताल में भर्ती राम रहीम से मिलने पहुंची हनीप्रीत

राम रहीम के कोरोना से संक्रमित होने की खबर सामने आई है। कोरोना से संक्रमित होने के बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनसे मिलने हनीप्रीत पहुंची।

गुरुग्राम। साल 2017 में दुष्कर्म और हत्या के मामले में सजा पाने वाले डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम एक बार फिर चर्चा में हैं। राम रहीम को दुष्कर्म और हत्या के मामले में राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाई गई थी। जो, अभी पूरी नहीं हुई है। वहीं, अब राम रहीम के कोरोना से संक्रमित होने की खबर सामने आई है। कोरोना से संक्रमित होने के बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं उनसे मिलने हनीप्रीत पहुंची।

राम रहीम मेदांता अस्पताल में भर्ती :

दरअसल, देश में जिस प्रकार कोरोना का प्रकोप मंडरा रहा है उसे देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि, उसकी चपेट में आने से बहुत से लोग बच नहीं पा रहे है। अब तक कई दिग्गज लोग कोरोना की चपेट में आचुके हैं। लाखो लोगों के कोरोना की चपेट में आने एक बाद अब रोहतक की सुनारिया जेल में बंद राम रहीम को भी कोरोना ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है। हालांकि, अगली जांच में उनकी टेस्‍ट रिपोस्ट नेगेटिव आई है, लेकिन तब भी उन्हें इलाज के लिए गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें अस्पताल में भर्ती होते ही उनकी देखभाल करने के लिए उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत भी अस्पताल पहुंच गई है।

हनीप्रीत का बना अटेंडेंट का कार्ड :

बताते चलें, गुरमीत राम रहीम को मेदांता हॉस्पिटल की 9वीं मंजिल पर रखा गया है और उनका कमरा नंबर 4643 है। फ़िलहाल उन्हें और किसी से मिलने की अनुमति नहीं है। रविवार को उनके भर्ती होने के बाद सोमवार की सुबह हनीप्रीत अस्पताल पहुंच गई। हनीप्रीत की रामरहीम की अटेंडेंट रहेंगी। अस्पताल प्रशासन ने हनीप्रीत का अटेंडेंट का कार्ड भी बना दिया है। यह अटेंडेंट कार्ड 15 जून तक के लिए वैध रहेगा। राम रहीम से मिलने के लिए उन्हें अस्पताल को यह कार्ड दिखाना पड़ेगा, तब ही उन्हें राम रहीम से मिलने दिया जाएगा।

कड़ी सुरक्षा के बीच अस्पताल में भर्ती :

खबरों की मानें तो इससे पहले राम रहीम की अस्पताल में हुई जांच में उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, लेकिन स्वास्थ्य विभाग द्वारा पर्पट जानकारी के मुताबिक, राम रहीम को कोरोना नहीं है और उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है, लेकिन फिर भी उन्हें मेदांता के कोरोना वॉर्ड में ही रखा गया है। उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीचअस्पताल लाया गया और अस्पताल में भी उन्हें निगरानी में रखा गया है। बता दें कि, राम रहीम की तबियत अचानक बिगड़ने पर 3 जून को PGIMS रोहतक की न्यू OPD व लाला श्यामलाल सुपरस्पेशलिटी सेंटर में उनकी जांच की गई थी। जांच के बाद उन्हें सुनारिया जेल वापस भेज दिया गया था, लेकिन PGIMS रोहतक के डॉक्टरों के परामर्श पर राम रहीम को मेदांता में जांच के लिए भेजा गया।

पहली रिपोर्ट में थे पॉजिटिव :

गुरुग्राम के मेदांता मेडिसिटी लाने के बाद राम रहीम की पहली जांच में वह कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। यहां राम रहीम का सीटी स्कैन हुआ और पेट व दिल की जांच की गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co