Bhopal Father Rape Minor Daughter
Bhopal Father Rape Minor DaughterRaj Express

बाप बना 'ANIMAL' बेटी से करता रहा रेप, माँ न देखती तो जारी रहता यह घिनौना कृत्य - 2022 में 3447 दुष्कृत्य

Bhopal Father Rape Minor Daughter : मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में सगे बाप ने अपनी बेटी को हवस का शिकार बनाया और उसकी इस घिनौनी हरकत को छुपाने के लिए जान से मारने की धमकी भी दी।

हाइलाइट्स

  • साल 2021 की तुलना में 2022 में बढ़े दुष्कृत्य के मामले।

  • देश में साल 2022 में महिलाओं से छेड़छाड़ के 46256 मामले दर्ज हुए।

  • कार्यस्थल पर 422 महिलाएं यौन उत्पीड़न की शिकार हुई।

राज एक्सप्रेस। बिटिया के लिए सबसे सुरक्षित जगह बाप की गोद होती है। बाप का साया साथ होने से बिटिया सुरक्षित महसूस करती है लेकिन जब यही बाप अपनी तेरह साल की बेटी को अपनी हवस का शिकार बनाने लगे तो बेटियां आखिर जायेंगी कहां और उनके लिए कौनसी जगह होगी जहां उन्हें सुरक्षित महसूस होगा। यह सवाल उस घटना के बाद उठना लाजमी है जिसमें एक बाप ने अपनी मासूम बच्ची से लगातार रेप किया और किसी को बताने पर उसकी माँ, भाई और बहन को जान से मारने की धमकी दी। देश में यही घटना नहीं है जिसमें हमारे सामाजिक ताने-बाने को झंझोड़ दिया हो बल्कि हर रोज कितनी ही बच्चियां और महिलाएं किसी अपने या अजनबियों की हवस का शिकार हो रहीं है। NCRB (National Crime Records Bureau) के आंकड़ों के अनुसार, साल 2022 में देशभर के विभिन्न थानों में 3447 रेप के प्रकरण दर्ज हुए। यह आंकड़ें वो है जो दर्ज हो गए कुछ ऐसे भी हवस के कृत्य है जो बदनामी के डर के पीछे छुप गये । पढ़िए देश में कहां कितने हुए रेप के प्रकरण और 'ANIMAL' बाप की कहानी।

यह बाप एनिमल है :

यह दर्दनाक कहानी उस तेरह साल की बच्ची की है जो इस समय असहनीय दर्द से गुजर रही है लेकिन सही मायने में उसको यह भी नही पता कि, उसके साथ हुआ क्या है। भोपाल जिले के खजूरी सड़क थाना क्षेत्र में रहने वाला एक परिवार, जिसमें लगभग 45 साल का बाप है और माँ। इन दोनों के 6 बच्चे है जिसमें सबसे बड़ी बेटी 13 साल की है। यह परिवार कृषि- मजदूर करता है और दूसरों के खेत में दिनभर काम करने के बाद रात को अपनी टूटी-फूटी झोपडी में सो जाता है। 14 दिसंबर की रात 3 बजे जब ये परिवार सो रहा था, उसी समय बाप ने उठकर पास सो रही अपनी सगी तेरह साल की बेटी के कपड़ें उतारकर उसके साथ दुष्कृत्य किया। बेटी चिल्लाती इससे पहले बाप ने उसे धमाका दिया लेकिन दुष्कृत्य होने के बाद बेटी चिल्लाई। आवाज सुनकर माँ जाग गई और बाप की करतूत उजागर हो गई। माँ की शिकायत पर खजूरी सड़क थाना पुलिस ने आरोपी बाप के खिलाफ 376 और पॉस्को एक्ट के तहत रेप का प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस को दिए बयान में पीड़ित बच्ची ने बताया कि, उसके बाप ने इससे पहले भी एक अन्य खेत में ले जाकर उसके साथ गलत काम किया है। उस समय बाप ने किसी को बताने पर उसकी माँ और भाई-बहन सहित उसको जान से मारने की धमकी दी थी इसलिए वह चुप रही।

इन आंकड़ों से समझिये हवस की स्थिति

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के अनुसार, साल 2022 में 3447 रेप के प्रकरण दर्ज हुए है जबकि साल 2021 में 3288 मामले दर्ज हुए थे। इसी प्रकार महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले साल 2022 में 46259 और 2021 में 44867 प्रकरण पंजीकृत हुए। कार्यस्थल पर महिलाओं के साथ यौन हिंसा या यौन उत्पीड़न के साल 2022 में 422 और 2021 419 प्रकरण दर्ज हुए जबकि यौन उत्पीड़न के कुल मामले 2022 में 17936 और 2021 में 17809 प्रकरण पंजीकृत हुए।

देश के विभिन्न थानों में दर्ज रेप के प्रकरण

देश के विभिन्न थानों में दर्ज यौन उत्पीड़न के मामले

कार्यस्थल या कार्यालय परिसर में यौन उत्पीड़न के मामले

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co