Rajab Tayyab Erdogan-Ravish Kumar
Rajab Tayyab Erdogan-Ravish Kumar|Priyanka Sahu -RE
भारत

तुर्की राष्ट्रपति को भारत का दो-टूक जवाब

पाकिस्‍तान संसद में तुर्की राष्ट्रपति द्वारा जम्मू-कश्मीर मामलेे पर भारत के खिलाफ दी गई टिप्पणी का भारत ने भी दो-टूक जवाब देते हुए कहा- वह भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप ना करे...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

हाइलाइट्स :

  • पाकिस्तानी संसद में J&K पर तुर्की के राष्ट्रपति का बयान

  • विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने दिया दो-टूक जवाब

  • भारत ने कहा-हमारे आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप ना करे

  • रजब तैयब इरदुगान ने पाकिस्तान में संयुक्‍त सत्र को किया था संबोधित

राज एक्‍सप्रेस। पाकिस्‍तान संसद में तुर्की राष्ट्रपति द्वारा जम्मू-कश्मीर मामलेे पर टांग अड़ाते हुए भारत के खिलाफ दी गई टिप्पणी का भारत ने भी दो-टूक जवाब दिया है। दरअसल, तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब इरदुगान ने जम्मू-कश्मीर पर दी गई टिप्पणी की आलोचना करते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने भी आज अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त कर ये बात कही...

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा-

भारत जम्मू-कश्मीर के संबंध में दिए गए सभी संदर्भों को खारिज करता है, वह भारत का अभिन्न अंग है, जो उससे कभी अलग नहीं हो सकता। हम तुर्क नेतृत्व से अनुरोध करते हैं कि वह भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप ना करे और भारत तथा क्षेत्र के लिए पाकिस्तान से उत्पन्न आतंकवाद के गंभीर खतरे सहित अन्य तथ्यों की उचित समझ विकसित करे।
रवीश कुमार

क्‍या थी एर्दोग़ान की टिप्पणी?

दरअसल, बीते दिन शुक्रवार को तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब इरदुगान ने पाकिस्तानी संसद में संयुक्‍त सत्र को संबोधित करते हुए अपने संबोधन के दौरान कहा- ''कश्मीरियों के संघर्ष की तुलना प्रथम विश्व युद्ध के दौरान विदेशी शासन के खिलाफ तुर्कों की लड़ाई से की। हमारे कश्मीरी भाई-बहन दशकों से बहुत कुछ झेल रहे हैं।''

इसके अलावा राष्ट्रपति रजब तैयब इरदुगान ने अपने संबोधन में भारत का नाम लिए बिना यह भी कहा था कि, हाल में उठाए गए एकतरफा कदमों की वजह से उनकी पीड़ा और बढ़ गई है। कश्मीर का मुद्दा संघर्ष या दमन के जरिये नहीं सुलझाया जा सकता है। इस मसले को न्याय और पारदर्शिता से ही हल किया जा सकता है, इस तरह से निकाला गया समाधान ही सभी पक्षों के हित में होगा।

तालियों से गूंजी पाकिस्‍तान संसद :

बता दें कि, तुर्की राष्ट्रपति इरदुगान जब कश्‍मीर पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे, तभी पाकिस्‍तान संसद तालियों से गूंज उठी थी एवं पाकिस्‍तानी सांसद काफी देर तक टेबल भी थपथपाते रहे थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co