सिंगापुर से ऑक्सीजन कंटेनर लेकर भारत पहुंचा सेना का सी-17 ग्लोबमास्टर
सिंगापुर से ऑक्सीजन कंटेनर लेकर भारत पहुंचा सेना का सी-17 ग्लोबमास्टरSocial Media

सिंगापुर से ऑक्सीजन कंटेनर लेकर भारत पहुंचा सेना का सी-17 ग्लोबमास्टर

कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के बाद पूरे देश में ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ गई है। ऐसे में भारतीय वायुसेना शनिवार को तरल ऑक्सीजन के भंडारण के लिए सिंगापुर से चार क्रायोजेनिक कंटेनर लेकर आई है।

राज एक्सप्रेस। भारतीय वायुसेना शनिवार को तरल ऑक्सीजन के भंडारण के लिए सिंगापुर से चार क्रायोजेनिक कंटेनर लेकर आई है। वायुसेना के सी-17 विमान से इन कंटेनरों को सिंगापुर से हवाई मार्ग से लाया गया। अधिकारियों ने कहा कि चार क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर लेकर विमान पश्चिम बंगाल के पानागढ़ एअरबेस पर शाम करीब 4.30 बजे उतरा।

भारत कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहा है और कई राज्य कोविड-19 मामलों की बढ़ती संख्या के बीच चिकित्सीय ऑक्सीजन और बिस्तरों की कमी से जूझ रहे हैं। शुक्रवार से, भारतीय वायुसेना कोविड-19 रोगियों के इलाज में अति-आवश्यक चिकित्सीय ऑक्सीजन के वितरण को गति देने के लिए खाली ऑक्सीजन टैंकर और कंटेनर हवाई मार्ग से देशभर के विभिन्न फिलिंग स्टेशनों तक पहुंचा रही है।

सी-17 विमान के जरिए भारत आया :

वायुसेना आवश्यक दवाओं के साथ-साथ देश के विभिन्न हिस्सों में कोविड-19 अस्पतालों के लिए आवश्यक उपकरणों का परिवहन भी कर रही है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के कार्यालय ने इससे पहले ट्वीट किया था, भारतीय वायुसेना ऑक्सीजन और अन्य महत्वपूर्ण चीजों की आपूर्ति का परिवहन समय कम करने के लिए उड़ानें संचालित कर रही है। एक सी-17 विमान शनिवार को सिंगापुर में चांगी हवाई अड्डे पर पहुंचा है। क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंकों के इन कंटेनरों से देश में ऑक्सीजन की आपूर्ति को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

अधिकतर राज्यों में ऑक्सीजन की किल्लत :

बता दें कि कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के बाद पूरे देश में ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ गई है। राजधानी दिल्ली समेत कई राज्य समय पर ऑक्सीजन देने के लिए केंद्र से गुहार लगा चुके हैं। अस्पतालों तक समय पर ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए भारतीय रेलवे भी ऑक्सीजन एक्सप्रेस चल रहा है। इसके अलावा सेना की मदद से भी ऑक्सीजन टैंकरों को एक जगह से दूसरी जगह भेजा जा रहा है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co