हिमाचल CM का दावा- बाहर से लौटे लोगों के कारण बढ़े कोरोना के मामले
हिमाचल CM का दावा- बाहर से लौटे लोगों के कारण बढ़े कोरोना के मामले|Priyanka Sahu -RE
भारत

हिमाचल CM का दावा- बाहर से लौटे लोगों के कारण बढ़े कोरोना के मामले

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दावा किया कि, राज्य में बाहर से लौटे लोगों के कारण ही कोरोना के मामले बढ़े हैं, केवल सामाजिक दूरी बनाए रखने की जरूरत है।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्‍सप्रेस। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि, राज्य में बाहर से लौटे लोगों के कारण कोरोना के मामले बढ़े हैं, लेकिन फिर भी यहां स्थिति अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर है।

CM जयराम ठाकुर ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से मंडी के भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारियों से बातचीत करते हुए कहा कि, कोरोना बीमारी वायरस से ज्यादा कुछ नहीं है। इसके लिए केवल सामाजिक दूरी बनाए रखने की जरूरत है। इस बीमारी से जुड़ी सामाजिक बुराई के बारे में भी लोगों को शिक्षित किया जाना चाहिए। केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के सम्बंध में जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करना चाहिए।

आगे उन्होंने ये भी कहा कि, ''देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे राज्य के लगभग 1.15 लाख लोगों की वापसी के कारण कोरोना मामलों की संख्या बढ़ी है। दो मई को प्रदेश में केवल मात्र एक ही कोरोना पॉजिटिव मरीज था, लेकिन उसके बाद कोरोना मरीजों की यह संख्या बढ़कर 33 हो गई। लेकिन हिमाचल की स्थिति अधिकतर पड़ोसी राज्यों से बेहतर है।''

अब तक 3627 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया है और समय-समय पर स्वास्थ्य जांच के अलावा सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित की जा रही हैं। वहीं 89,293 अन्य लोगों को होम क्वारंटीन में रखा गया है।

CM जयराम ठाकुर

CM जयराम ठाकुर ने कार्यकर्ताओं को दिए निर्देश :

होम क्वारंटीन में रखे लोग नियमों का सख्ती से पालन सुनिश्चित करें।

राज्य में फंसे प्रवासी मजदूरों को भोजन और आश्रय देने के लिए भी आगे आएं।

अब तक प्रदेश के 11,48,387 लोगों ने आरोग्य सेतू अपने मोबाइल पर डाउनलोड किया है और यह सभी के लिये जरूरी है।

साथ ही उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को परामर्श दिया कि, कांग्रेस नेताओं द्वारा किए जा रहे झूठे प्रचार का जवाब देने के लिए विभिन्न सोशल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करें। विपक्ष विभिन्न मुद्दों को लेकर लोगों को गुमराह कर रहा है। जबकि राज्य सरकार ने प्राथमिकता वाले परिवारों के चयन के लिए एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co