COAS जनरल मनोज पांडे
COAS जनरल मनोज पांडेRaj Express

पाकिस्तानी सेना राजौरी पुंछ क्षेत्र में आतंकवाद को बढ़ाने की कोशिश कर रही: COAS जनरल मनोज पांडे

COAS जनरल मनोज पांडे ने कहा, पाकिस्तानी सेना राजौरी-पुंछ में आतंकवाद को बढ़ाने की कोशिश कर रही है। कश्मीर घाटी में शांति बहाल हो रही है। देश विरोधी ताकतें छद्म तंजीमों को उकसावा दे रही।

हाइलाइट्स :

  • सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे का बयान

  • हमारा देश आर्थिक क्षेत्र में प्रगति के पथ पर मजबूती से आगे बढ़ रहा: मनोज पांडे

  • मनोज पांडे ने बताया, अग्निवीरों के पहले दो बैच फील्ड यूनिट में तैनाती के लिए पूरी तरह तैयार हैं

दिल्‍ली, भारत। सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे का आज गुरुवार को बयान सामने आया है, जिसमें उन्‍होंने राजौरी और पुंछ के हालातों को चिंताजनक बताया है।

COAS जनरल मनोज पांडे ने कहा, ''पिछले 5-6 महीनों में राजौरी और पुंछ में स्थिति और आतंकवादी गतिविधियां हमारे लिए चिंता का विषय रही हैं। 2003 तक, इस क्षेत्र में आतंकवाद पूरी तरह से फैल गया था और शांति थी 2017-18 तक वहां स्थापित किया गया। क्योंकि घाटी में शांति आ रही है, हमारे विरोधी क्षेत्र में छद्म तंजीमों को प्रोत्साहित कर रहे हैं। पाकिस्तानी सेना राजौरी पुंछ क्षेत्र में आतंकवाद को बढ़ाने की कोशिश कर रही है।''

हमारा देश आर्थिक क्षेत्र में प्रगति के पथ पर मजबूती से आगे बढ़ रहा है। हम अपने देश की प्रगति में मदद करने के लिए आंतरिक और बाहरी दोनों तरह से एक स्थिर और सुरक्षित वातावरण सुनिश्चित करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।

सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे

इसके अलावा थलसेना अध्यक्ष (COAS) जनरल मनोज पांडे ने यह भी बताया कि, 'अग्निवीरों के पहले दो बैच फील्ड यूनिट में तैनाती के लिए पूरी तरह तैयार हैं और इनके फीडबैक काफी अच्छे और उत्साहजनक हैं। 120 महिला अधिकारियों को भी कमांड भूमिका में स्थायी कमीशन दिया गया है और उनकी फील्ड एरिया में भी तैनाती की गई है। वह भी अच्छा काम कर रही हैं।'

उन्‍होंने कहा कि, ''उत्तर पूर्व में बीते साल हालात बेहतर हुए हैं और इसकी जिम्मेदार सरकार द्वारा बनाई गई नीतियां हैं। हिंसा की घटनाएं कम हुई हैं। मणिपुर में बीते साल मई में हिंसा हुई थी लेकिन राज्य सरकार, सेना और असम राइफल्स के संयुक्त प्रयासों से हालात अभी स्थिर हैं और हम हालात को सामान्य करने के लिए काम कर रहे हैं।''

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co