उत्तर प्रदेश में पहली बार कप्पा वेरिएंट मिलने से प्रशासन में मचा हड़कंप
उत्तर प्रदेश में पहली बार कप्पा वेरिएंट मिलने से प्रशासन में मचा हड़कंपSyed Dabeer Hussain - RE

उत्तर प्रदेश में पहली बार कप्पा वेरिएंट मिलने से प्रशासन में मचा हड़कंप

पिछले दिनों कई तरह के फंगस और डेल्टा, डेल्टा प्लस वेरिएंट ने देश में जम कर तबाही मचाई है। इसी बीच अब भारत के उत्तर प्रदेश में कप्पा वैरिएंट के मिलने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

उत्तर प्रदेश। आज पूरी दुनिया में कोरोना से कोहराम मचा हुआ है। हालांकि, पहले की तुलना में मामलों में कमी दर्ज की गई है। आज सभी देश कोरोना की इस जंग में वैक्सीन पर ही निर्भर हैं। ऐसे में देश में अब एक-एक करके नई बीमारियां जन्म लेती ही जा रही हैं। पिछले दिनों कई तरह के फंगस और डेल्टा, डेल्टा प्लस वैरिएंट ने देश में जम कर तबाही मचाई है। इसी बीच अब भारत के उत्तर प्रदेश में कप्पा वैरिएंट के मिलने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

उत्तर प्रदेश में मिला कप्पा वैरिएंट :

दरअसल, वर्तमान समय में भारत कोरोना वायरस के साथ ही इसके अलग-अलग वैरिएंट का सामना कर ही रहा है। ऐसे हालातों के बीच आज उत्तर प्रदेश में कप्पा वैरिएंट के मिलने की पुष्टि हुई है। बता दें, इसे वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट घोषित किया जा चुका है। प्रदेश से कोरोना वायरस के डेल्टा, डेल्टा प्लस और कप्पा वैरिएंट जैसे नए रूप की पुष्टि होने के बाद अब प्रशासन सजग नजर आरहा है। क्योंकि, शासन ने इस पूरे मामले की जानकारी BRD मेडिकल कॉलेज प्रशासन से मांगी है। इस जानकारी के तहत संक्रमित पाए गए लोगों के नाम पता सहित पूरी जानकारी मांगी गई है।

विभागाध्यक्ष ने बताया :

इस कप्पा वैरिएंट से जुड़ी जानकारी देते हुए माइक्रोबायोलॉजी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अमरेश सिंह ने बताया कि, 'कोरोना का कप्पा वैरिएंट UP में पहली बार मिला है। इसके बी.1.617 वंश के म्यूटेशन से ही पैदा हुआ है, जो डेल्टा वैरिएंट के लिए भी जिम्मेदार है। बी.1.617 के एक दर्जन से ज्यादा म्यूटेशन हो चुके हैं। इनमें से दो खास हैं- ई484क्यू और एल452आर, इसलिए इस वैरिएंट को डबल म्यूटेंट भी कहा जाता है। जैसे-जैसे यह विकसित होगा, बी.1.617 की नई वंशावली तैयार होगी। बी.1.617.2 को डेल्टा वैरिएंट के नाम से जाना जा रहा है, जोकि भारत में कोरोना की दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार माना जाता है। इसके अन्य वंश बी.1.617.1 को कप्पा कहा जाता है। इसे अप्रैल में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट घोषित किया है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co