कर्नाटक के डिप्टी स्पीकर SL धर्मेगौड़ा ने की आत्महत्या-जांच में जुटी पुलिस
कर्नाटक के डिप्टी स्पीकर SL धर्मेगौड़ा ने की आत्महत्या- जांच में जुटी पुलिसSocial Media

कर्नाटक के डिप्टी स्पीकर SL धर्मेगौड़ा ने की आत्महत्या-जांच में जुटी पुलिस

कर्नाटक विधान परिषद के डिप्टी स्पीकर एसएल धर्मेगौड़ा के आत्महत्या का मामला सामने आया है। इस दौरान सुसाइड नोट भी बरामद हुआ। बताया जा रहा है, सुसाइड नोट में विधान परिषद के हंगामे का जिक्र है।

कर्नाटक, भारत। कर्नाटक विधान परिषद में कुछ दिनों पहले बड़ा सियासी बवाल और हाथापाई का एक अजब ही आलम नजर आया था। इसी के बाद अब कर्नाटक विधान परिषद के डिप्टी स्पीकर एसएल धर्मेगौड़ा (64) के आत्महत्या का मामला सामने आया है।

रेलवे ट्रैक पर मिला डिप्टी स्पीकर धर्मेगौड़ा का शव :

दरअअसल, कर्नाटक विधान परिषद के डिप्टी स्पीकर और JDS नेता एसएल धर्मेगौड़ा का आज मंगलवार को चिकमगलूर के कडूर में रेलवे ट्रैक पर शव बरामद हुआ है। साथ ही इस दौरान पुलिस को उनके पास से सुसाइड नोट भी मिला है और सुसाइड के एंगल से ही पुलिस जांच में जुटी हुई है।

क्‍या है डिप्टी स्पीकर धर्मेगौड़ा के आत्महत्या की वजह

हालांकि, अभी एसएल धर्मेगौड़ा की आत्महत्या करने की साफ वजह तो नहीं पता चल पाई है, लेकिन सामने आई जानकारी के अनुसार, सुसाइड नोट में विधान परिषद के हंगामे का जिक्र है। तो वहीं, आईजीपी वेस्ट का कहना है, ''मामले की जांच चल रही है। साइट से एक नोट बरामद हुआ है, लेकिन इसमें क्या है, इसका विवरण नहीं दे सकते।''

धर्मेगौड़ा के सुसाइड पर नेताओं की प्रतिक्रिया :

यह एक राजनीतिक हत्या है जो आज हुई है। उनकी मौत का जिम्मेदार कौन है, इस बारे में जल्द से जल्द सच्चाई सामने आनी चाहिए।

कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी

राज्य विधान परिषद के उपसभापति और जेडीएस नेता एसएल धर्मेगौड़ा की आत्महत्या की खबरें चौंकाने वाली है। वह एक शांत और सभ्य आदमी थे। यह राज्य का नुकसान है।

जेडीएस नेता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा

इसके अलावा ये बात भी सामने आई है कि, ''चिकमगलुरु जिले में गुनसागर के कडूर तालुक में उन्होंने ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी। धर्मेगौड़ा सोमवार देर रात अपने घर से सैंट्रो कार से निकले थे। जब काफी देर तक वह घर नहीं लौटे तो पुलिस और उनके स्टाफ ढूंढने निकल पड़ा। मंगलवार तड़के उनका शव बरामद हुआ।''

बता दें कि, पिछले दिनों ही एस एल धर्मेगौड़ा सुर्खियों में आए थे, जब उनके साथ कर्नाटक विधान परिषद के एक सत्र के दौरान उनके साथ बदसलूकी की गई थी, कांग्रेस नेताओं ने उन्हें कुर्सी से खींचकर हटा दिया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co