कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन की सौगात, PM बोले- अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीSocial Media

कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन की सौगात, PM बोले- अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोच्चि-मंगलुरु प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का उद्घाटन कर बोले- इस प्रोजेक्ट से दोनों राज्यों ईज ऑफ लिविंग बढ़ेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज को कोच्चि-मंगलुरु प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का उद्घाटन किया। पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम में शामिल हुए, जिसमें कर्नाटक, केरल के मुख्यमंत्री भी मौजूद रहे। इस पूरी पाइपलाइन की लंबाई करीब 450 किमी. है, जिससे कई जिलों को सीधे लाभ मिलने जा रहा है। साथ ही दोनों राज्यो की ईज ऑफ लिविंग बढ़ेगी।

प्राकृतिक गैस पाइपलाइन के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि केरल-कर्नाटक के लोगों के लिए आज का दिन काफी अहम है। इस पाइपलाइन के जरिए दोनों राज्यों की अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा। यह इस बात का उदाहरण है कि विकास को प्राथमिकता देते हुए सभी मिलकर काम करें, तो कोई लक्ष्य असंभव नहीं होगा।

उन्होंने कहा- यह पाइपलाइन क्यों जरूरी है, आप इसे ऐसे समझ सकते हैं कि इससे दोनों राज्यों में ईज ऑफ लिविंग बढ़ेगी। उद्यमियों के खर्च कम होगा। यह पाइपलाइन अनेक शहरों में CNG आधारित सिस्टम को बढ़ावा देगी। कम खर्च में फर्टिलाइजर बन सकेंगे, किसानों को मदद मिलेगी। स्वच्छ ऊर्जा मिलेगी, शहर में गैस आधारित व्यवस्था बनेगी।

पीएम मोदी ने कहा कि पाइपलाइन के निर्माण के दौरान 12 लाख मानवीय घंटे का रोजगार बना। पाइपलाइन बनने के बाद भी अब रोजगार के क्षेत्र में फायदा मिलेगा। भारत क्लाइमेट चेंज को लेकर सबसे बेहतर काम कर रहा है, दुनिया ने भी इस बात को माना है। आज हिंदुस्तान डिजिटल, गैस, हाइवे, आईवे कनेक्टविटी पर जोर दिया जा रहा है।

पीएम मोदी बोले कि पहली अंतरराज्यीय पाइपलाइन 1987 में कमीशन हुई थी, 2014 तक देश में 15 हजार किमी. नैचुरल पाइपलाइन बनी, लेकिन आज देश में 16 हजार किमी. पाइपलाइन पर काम चल रहा है, जो अगले पांच साल में पूरा हो जाएगा। पीएम मोदी बोले कि 2014 तक देश में CNG स्टेशन की संख्या 900 तक ही थी, लेकिन पिछले 6 साल में 1500 नए स्टेशन बने हैं। अब देश में CNG स्टेशन की संख्या को दस हजार करने का लक्ष्य है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co