क्यों बढ़ाई गई पंडित धीरेंद्र शास्त्री की सुरक्षा
क्यों बढ़ाई गई पंडित धीरेंद्र शास्त्री की सुरक्षाSudha Choubey -RE

क्यों बढ़ाई गई बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री की सुरक्षा, मिली 'Y' कैटेगरी की सुरक्षा

Dhirendra Shastri: बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। बता दें, धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को Y श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

Dhirendra Shastri: बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। बता दें, धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को Y श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। केंद्र सरकार की तरफ से इसको लेकर आदेश जारी कर दिया गया है। Y श्रेणी की सुरक्षा मिलने के बाद एक या दो कमांडो धीरेंद्र शास्त्री के साथ रहेंगे। इसके साथ ही उनके सुरक्षा घेरे में पुलिसकर्मियों सहित आठ जवान भी शामिल रहेंगे।

परिवार को मिला था जान से माेरने की धमकी:

बता दें कि, करीब चार महीने उन्हें परिवार सहित जान से माेरने की धमकी मिली थी। बागेश्वर धाम सरकार उर्फ धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को एक मशहूर कथावाचक हैं। पिछले कुछ महीनों से वह काफी सुर्खियों में रहे हैं। अमर सिंह नाम के शख्स ने उन्हें पिछले दिनों जान से मारने की धमकी दी थी। धीरेंद्र शास्त्री के चचेरे भाई के नंबर पर यह धमकी भरा फोन आया था।

बता दें, बुधवार को मध्यप्रदेश सरकार की ओर से एक आदेश जारी किया गया है, जिसमें बागेश्वर धाम महाराज पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री को Y कैटेगिरी की सुरक्षा दिए जाने की बात लिखी है। Y कैटेगिरी की सुरक्षा मिलने के बाद हर वक्त पंडित धीरेन्द्र शास्त्री के साथ कमांडो तैनात होंगे।

क्या है Y+ सिक्योरिटी:

जानकारी के लिए बता दें कि, Y श्रेणी की सुरक्षा में 1 या 2 कमांडो और पुलिस कर्मियों सहित 8 जवानों का सुरक्षा कवच प्रदान किया जाता है। इसमें सुरक्षा के रूप में दो पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर (पीएसओ) भी प्रदान किया जाता है। भारत में इस श्रेणी की सुरक्षा पाने वाले लोगों की संख्या काफी ज्यादा है।

कौन देता वीआईपी को सिक्योरिटी:

आपको बता दें कि, भारत में वीवीआईपी लोगों को कई सुरक्षा एजेंसी द्वारा सिक्योरिटी दी जाती है। इसमें एसपीजी (SPG), एनएसजी (NSG), आईटीबीपी (ITBP) और सीआरपीएफ (CRPF) जैसी एजेंसी शामिल हैं। इस सुरक्षा को लेने के लिए सरकार को एप्लीकेशन देनी होती है, इसके बाद खुफिया एजेंसी व्यक्ति को होने वाले खतरे का अंदाजा लगाती हैं और उसके बाद ही सुरक्षा तय की जाती है। गृह सचिव और डायरेक्टर जनरल और चीफ सेक्रेटरी की कमेटी तय करती है कि, किस व्यक्ति को कौन सी सुरक्षा दी जाए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co