8वें अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव
8वें अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सवSocial Media

8वें अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव में CM ने कहा-"हमारा सारा ज्ञान और योग्यताएं जिज्ञासा के बिना अधूरी"

भोपाल, मध्यप्रदेश: भोपाल में आज से अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव, सीएम ने केंद्रीय राज्यमंत्री व मंत्री सकलेचा व अन्य गणमान्य हस्तियों के साथ इस महोत्सव का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। भोपाल में आज से आठवां भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव प्रारंभ होगा, 24 जनवरी तक आयोजित होने वाला यह आयोजन यहां मौलाना आजाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टैक्नालॉजी परिसर में शुरू हुआ। देश की आजादी के अमृत काल में आयोजित यह महोत्सव विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में तरक्की में मददगार साबित होगा। इस अवसर पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री और केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री मौजूद रहे।

Inauguration of India International Science Festival

सीएम ने केंद्रीय राज्यमंत्री व मंत्री सकलेचा व अन्य गणमान्य हस्तियों के साथ भोपाल में 8वें भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने 8वें भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (IISF)-2022 में सहभागिता करने भोपाल पधारे केंद्रीय राज्यमंत्री का विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्री के साथ स्वागत किया।

महोत्सव में मुख्यमंत्री ने कहा-

8वें अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, ज्ञान के लिए जिज्ञासा आवश्यक है। विज्ञान में जिज्ञासा आवश्यक है। आदरणीय रवींद्रनाथ टैगोर जी ने कहा था कि सभी ज्ञान और योग्यताएं जिज्ञासा के बिना व्यर्थ हैं। हमारे बच्चे विज्ञान एवं विभिन्न क्षेत्रों में चमत्कार कर रहे है, भारत की सोच वैज्ञानिक है। इनोवेशन, नवाचार और वैज्ञानिक सोच भारत की जड़ों, माटी तथा संस्कृति में है। हजारों साल पहले से भारत विज्ञान और प्रौद्योगिकी में आगे है।

जिज्ञासा के साथ जिद होनी चाहिये। यदि जिद नहीं होगी, तो आप केवल विचार करते रह जायेंगे। परिणाम के लिए जिज्ञासा के साथ जिद भी जरूरी है।
मुख्यमंत्री शिवराज

मुख्यमंत्री बोले- मेरे बच्चों, मन में कोई इनोवेटिव आयडिया आये, तो उसे रुकने मत दो, उसे जमीन पर उतारो। तुम्हारे साथ हम और मध्यप्रदेश सरकार खड़ी है, स्टार्टअप नीति इस विचार का परिणाम है और स्टार्टअप नीति में हमने तय किया है कि एक करोड़ रुपये तक की हम सहायता देंगे। इंदौर में हम स्टार्टअप पार्क बना रहे हैं। जरूरत पड़ी तो भोपाल और ग्वालियर व जबलपुर में भी बनायेंगे। वेंचर कैपिटल फण्ड से भी हम पैसा लगायेंगे। सीएम ने बताया है कि, एक जमाना था जब भारत के उपग्रह कोई और लॉन्च करता था। आज हम सिर्फ अपने उपग्रह लॉन्च नहीं कर रहे बल्कि दुनिया के कई देशों के उपग्रह लॉन्च करने का चमत्कार कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री के नेतृत्व में वैज्ञानिकों ने चमत्कार करते हुए कोरोना की दो-दो स्वदेशी वैक्सीन बनाईं। 200 करोड़ भारतीयों को वैक्सीन लगी और 100 से अधिक देशों को भारत ने वैक्सीन दी।

मुख्यमंत्री शिवराज

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co