भोपाल में पटवारियों ने निकाली तिरंगा यात्रा
भोपाल में पटवारियों ने निकाली तिरंगा यात्राRaj Express

Madhya Pradesh Patwari Protest :पटवारियों ने निकाली तिरंगा यात्रा, CM हाउस जाने से रोकने पर दो घंटे दिया धरना

मध्यप्रदेश में पटवारियों को वर्ष 1998 में निर्धारित किए गए वेतनमान के अनुसार ही वर्तमान वर्ष 2023 में वेतन दिया जा रहा है। 25 वर्षों में प्रदेश के पटवारियों के वेतनमान में कोई वृद्धि नहीं की गई हैं।

हाइलाइट्स :

  • 25 सालों से नहीं बढ़े वेतनमान को बढ़ाने की मांग कर रहे है पटवारी

  • 28 अगस्त से शुरू होगी अनिश्चितकालीन हड़ताल

  • पटवारियों के प्रदर्शन में कोटवार भी शामिल रहे।

भोपाल। प्रदेश भर से बड़ी संख्या में शनिवार को राजधानी पहुंचे पटवारियों ने तिरंगा यात्रा निकाली। पटवारियों को मुख्यमंत्री निवास जाने से रोका, तो वह धरने पर बैठ गए। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद मांगों का निराकरण नहीं होने पर 28 से अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी देकर धरना समाप्त कर दिया। पटवारी वेतनमान समेत अन्य मांगों का निराकरण किए जाने की मांग कर रहे है। पटवारियों के प्रदर्शन में कोटवार भी शामिल रहे। वेतनमान समेत अन्य मांगों के निराकरण के लिए पटवारी बीते तीन दिनों से सामूहिक अवकाश लेकर आंदोलन कर रहे है।

शनिवार को पूरे प्रदेश से पटवारी राजधानी पहुंचे। पटवारियों ने अटल पथ से तिरंगा यात्रा निकाली। इस दौरान पटवारियों ने देशभक्ति से ओतप्रोत नारों पर जमकर नारेबाजी की। वह सीएम हाउस की तरफ बढऩे लगे, तो पुलिस ने रोक लिया। इससे नाराज पटवारी वहीं बैठ गए। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद उठे। मध्यप्रदेश पटवारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेंद्र सिंह बघेल ने बताया कि सीएम हाउस तक शांतिपूर्वक तिरंगा यात्रा निकाल रहे थे। यह किसी प्रकार का प्रदर्शन नहीं था, लेकिन पुलिस ने रास्ते में ही रोक दिया। प्रदर्शन में भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, शाजापुर, विदिशा, रायसेन और सीहोर समेत प्रदेशभर से पटवारी शामिल हुए।

बघेल ने बताया कि हम चरणबद्ध आंदोलन कर रहे हैं। पहले चरण में 21 अगस्त से सभी सरकारी गु्रप से लेफ्ट हो गए थे और ऑनलाइन काम का बहिष्कार किया था। दूसरे चरण में 23 से 25 अगस्त तक 3 दिन तक सामूहिक अवकाश पर रहे। 26 अगस्त को भोपाल में तिरंगा यात्रा निकाल कर सरकार तक अपनी बात पहुंचाई है। अब मांगों के निराकरण के लिए 28 अगस्त से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करेंगे। वहीं, कोटवारों ने भी यहां प्रदर्शन किया। वे मानदेय बढ़ाने समेत अन्य मांगों को लेकर यह प्रदर्शन कर रहे थे।

यह है पटवारियों की मांग

प्रदेश के पटवारी वेतनमान विसंगति को दूर कर 2800 ग्रेड पे की मांग विगत 25 वर्षों से कर रहे है। मध्यप्रदेश में पटवारियों को वर्ष 1998 में निर्धारित किए गए वेतनमान के अनुसार ही वर्तमान वर्ष 2023 में वेतन दिया जा रहा है। विगत 25 वर्षों में प्रदेश के पटवारियों के वेतनमान में कोई वृद्धि नहीं की गई हैं जबकि पटवारियों से पूरे सेवाकाल में कार्य लेने वाले राजस्व विभाग एवं उसकी पद स्थापना वाले भू अभिलेख विभाग के सभी पदोन्नत पदों (राजस्व निरीक्षक, नायब तहसीलदार, सहायक अधीक्षक भू अभिलेख, तहसीलदार, अधीक्षक भू अभिलेख) के वेतनमान में कई बार वृद्धि की गई। इसके अलावा पद के सापेक्ष में समयमान वेतनमान, पदोन्नति, गृहभाड़ा भत्ता, स्टेशनरी भत्ता, यात्रा भत्ता में वर्तमान मंहगाई के अनुसार बढ़ोत्तरी की मांग कर रहे है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co