केंद्र सरकार किसानों की हितैषी नहीं : राकेश टिकैत
केंद्र सरकार किसानों की हितैषी नहीं : राकेश टिकैतRaj Express

केंद्र सरकार किसानों की हितैषी नहीं : राकेश टिकैत

बैतूल, मध्यप्रदेश : किसान नेता राकेश टिकैत ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह सरकार किसान हितैषी नही है। यह असत्य बोलने में माहिर है।

बैतूल, मध्यप्रदेश। किसान नेता राकेश टिकैत ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह सरकार किसान हितैषी नही है। यह असत्य बोलने में माहिर है। हमने किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर लादे गए झूठे मुकदमे वापस लेने की मांग की थी। संसद में सरकार ने इन केसों को वापस लेने की बात कही लेकिन वास्तव में ऐसा नही हुआ।

श्री टिकैत मध्यप्रदेश के बैतूल जिले के तहसील मुख्यालय मुलताई में गोली कांड की 25 वीं बरसी पर आयोजित किसानों के श्रद्धांजलि कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। 12 जनवरी 1998 को खराब फसलों का मुआवजा देने की मांग को लेकर किसान नेता डॉ सुनीलम की अगुवाई में तहसील कार्यालय पर हुए किसानों के उग्र आंदोलन के दौरान पुलिस के गोली चलाने से करीब 20 से अधिक किसानों की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद हर वर्ष डॉ सुनीलम गोलीकांड की बरसी पर किसानों को श्रद्धाजंलि देने का कार्यक्रम आयोजित करते आ रहे है।

गुरूवार आयोजित श्रद्धाजंलि कार्यक्रम में किसान नेता श्री टिकैत ने कहा कि सरकार संसद में कहती है कि स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को लागू कर दिया है, लेकिन ऐसा कुछ नही हुआ। न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) गारंटी का कानून अभी तक नही बनने से किसानों को आज भी फसलों के वास्तविक दाम नही मिल पा रहे है। पार्टियो से किसानों को कभी भी भला नही हुआ। आंदोलन से ही किसानों को फायदा मिला है।

उन्होंने बड़े उद्योगपतियों के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि देश की संपत्ति कुछ लोगों को दी जा रही है। इन संपत्तियों का राष्ट्रीयकरण होना चाहिए। सरकार को एक सीमा तय करनी चाहिए कि एक व्यक्ति के पास अधिकतम कितनी संपत्ति हो सकती है। जब तक ऐसा नही होगा जब तक देश गरीब होता रहेगा और संपत्ति कुछ लोगों के पास रहेगी। किसान नेता श्री टिकैत ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता राहुल गांधी की यात्रा की प्रशंसा करते हुए कहा कि श्री गांधी ठीक काम कर रहे है। जब नेता सत्ता में नही हो तो उन्हें यात्रा निकालते रहना चाहिए।

कार्यक्रम में किसान नेता एवं मुलताई के पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम, अराधना भार्गव समेत देश के कई हिस्सों से आए किसान नेता मौजूद थे। आयोजन को लेकर पुलिस की चाक-चौबंद व्यवस्था थी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co