MP CM ने मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों को किया संबोधित
MP CM ने मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों को किया संबोधितSocial Media

टीम मध्यप्रदेश जनता का भाग्य और भविष्य बदलने के लिए तेजी से जुट जाए : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नव वर्ष में निर्धारित रोडमैप के साथ राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन किया जाए।

हाइलाइट्स :

  • नए साल में सीएम की मंत्री, अफसरों के लिए पहली क्लास।

  • मंत्रियों, अफसरों को दी नसीहत।

  • काम के आधार पर तैयार होगा अफसरों का रिपोर्ट कार्ड।

  • जीरो डिफेक्ट-मेक्सिमम इफेक्ट का दिया मंत्र।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नए वर्ष पर सोमवार को प्रदेश के मंत्री और अफसरों की पहली क्लास लगाई। मुख्यमंत्री निवास में हुई इस क्लास में मंत्रालय से लेकर मैदान तक के आला अफसर वर्चुअली शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने मंत्री और अफसरों को साफ कह दिया कि अब वक्त कम है और काम ज्यादा, इसलिए अब फोकस केवल काम पर करें। उन्होंने कहा कि काम ऐसा करें कि लोगों की जिंदगी बदल जाए। इस दौरान उन्होंने जीरो डिफेक्ट-मेक्सिमम इफेक्ट का मंत्र दिया। उन्होंने अफसरों को ताकीद किया कि अब विभागवार काम के आधार पर रिपोर्ट कार्ड तैयार होगा। इसी के आधार पर अफसरों के काम का मूल्यांकन होगा कि वे महत्वपूर्ण पदस्थापना के योग्य हैं भी या नहीं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, 'हर क्षेत्र में हमारी उपलब्धियां हैं, जिनको ढंग से प्रचारित करने की आवश्यकता है। इन उपलब्धियों के लिए टीम मध्यप्रदेश को बधाई देता हूँ। हम अपनी उपलब्धियों को आकर्षक ढंग से प्रस्तुत करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास पर समत्व भवन के संवाद कक्ष में नव वर्ष पर मंत्रीगण, मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक, सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव, विभागाध्यक्ष, एचओडी, सभी संभागायुक्त, कलेक्टर्स,समस्त पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस आयुक्त एवं समस्त जिला पुलिस अधीक्षक को संबोधित कर रहे थे।'

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, 'प्रदेश बिजली के मामले में सरप्लस स्टेट बना है। ऐसी हमारी अनेक उपलब्धियां हैं। साल भर में हमने जो उपलब्धियां हासिल की हैं उसे जनता के सामने रखें। लघुफिल्मों, सोशल मीडिया, प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया आदि के माध्यम से हर विभाग की उपलब्धियों का प्रचार-प्रसार हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी आत्म-निर्भर भारत की दिशा में काम कर रहे हैं। हमारा योगदान इसके लिए बेहतर होना चाहिए। हमें हर क्षण का उपयोग करना है। समय को व्यर्थ नहीं जाने देना है।'

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, "विजन और मिशन के साथ कार्य करें। ऐसे काम हो जो प्रदेश की जनता की जिंदगी बदल दें। संबंधित विभाग जी- जान से कार्य करें। उन्होंने कहा कि प्रवासी भारतीय दिवस, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट और खेलो इंडिया यूथ गेम्स में सबकी महत्वपूर्ण भूमिका रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निवेश बढ़ाने के लिए हरसंभव प्रयास करें, जिससे अधिकतम लोग निवेश करें। खेलों इंडिया यूथ गेम्स के लिए प्रदेश में खेलमय वातावरण बने। जी-20 के माध्यम से प्रदेश की बेहतर ब्रांडिंग हो। जीरो डिफेक्ट- मैक्जिमम इफेक्ट वाले आयोजन होने चाहिए। विभाग के मंत्री और प्रशासनिक अधिकारी इस पर ध्यान दें। उन्होंने कहा कि एक फरवरी से 15 फरवरी तक प्रदेश में विकास यात्रा निकाली जाएगी। गांव-गांव जाकर उपलब्धियों का प्रचार होगा।"

हवाई जहाज से होगी तीर्थ-दर्शन यात्रा, कूनो में चीता प्रोजेक्ट बनेगा :

मुख्यमंत्री ने कहा कि गणतंत्र दिवस केवल सरकारी कर्मकांड बन कर नहीं रहेगा, इसमें जनता शामिल हो। मैं स्वयं जबलपुर में रहूंगा। गणतंत्र दिवस को अद्भुत और उत्सवी माहौल में मनाया जाए। इसके लिए विभिन्न कार्यों की प्राथमिकता तय कर काम करें। संत रविदास की जयंती पर सामाजिक समरसता के साथ कार्यक्रम हों। मुख्यमंत्री ने सीएम जन-सेवा अभियान के अद्भुत आयोजनों के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि जन-सेवा अभियान का एक और दौर अप्रैल में चलेगा। हवाई जहाज से मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन यात्रा होगी। कूनो में चीता प्रोजेक्ट बनेगा। बैगा, भारिया, सहरिया जाति के अलावा कोल वर्ग की महापंचायत भी होगी। हर विभाग का रिपोर्ट कार्ड बनेगा, जो टारगेट तय किए थे, उसकी जानकारी ली जाएगी।

संविदा वालों को समय पर मानदेय दें :

मुख्यमंत्री ने कहा कि सीएम कॉन्क्लेव के निर्देशों का पालन होना चाहिए। आत्म-निर्भर मप्र में कितना काम किया इसका भी रिपोर्ट कार्ड बनेगा। आम बजट की तैयारी करें। घोषणाओं और निर्देशों को पूरा करें। हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ समय पर मिले। तृतीय-चतुर्थ और संविदा श्रेणी के वेतन और मानदेय का भुगतान समय पर हो। जल जीवन मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजनाए भू-अधिकार, राशन आपके ग्राम, स्व-निधि, युवा उद्यमी, स्वच्छ भारत मिशन, अटल प्रगति पथ, आयुष्मान भारत, अमृत सरोवर, लाड़ली लक्ष्मी, संबल योजना, प्राकृतिक खेती आदि की मॉनिटरिंग ढंग से कर लाभ मिलना चाहिए। छात्रावासों की व्यवस्था ठीक रहे। बच्चों को बेहतर सुविधाएं मिलें। शासकीय योजनाओं और विकास कार्यों का मैदानी निरीक्षण करें।

जनता का फीडबेक लेने का सिस्टम तैयार करें :

मुख्यमंत्री ने कहा कि पेसा अधिनियम को जमीन पर उतारने के लिए ठोस प्रयास हों। सहकारिता नीति जारी करें। जनता का फीडबेक लेने का सिस्टम तैयार करें। मंत्री एवं विभाग के अधिकारी जनता का फीडबेक लें। भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति हो। कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए राज्य सरकार और जिला प्रशासन के बीच समन्वय हो। सरकारी योजनाओं और कार्यों का प्रभावी क्रियान्वय हो।

मिशन मोड पर काम करें :

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता को कोई भी असुविधा न हो। बिना लिए-दिए निश्चित समय-सीमा में लोगों को सुविधाओं का लाभ मिले। प्रदेश में माफिया के खिलाफ बेहतर कार्यवाही हुई है। अन्य गतिविधियां भी बेहतर चलें। भेापाल के नीलबड़ में 40 एकड़ जमीन भू-माफिया से छुड़ाई गई है। माफिया से जमीन मुक्त करा कर गरीबों के घर बनाएंगे। अधो-संरचना और विकास के कार्य व्यवस्थित ढंग से समय-सीमा में पूरे हों। मिशन मोड में कार्य कर प्रदेश की जनता को समर्पित करें। शासकीय विभागों में एक लाख 14 हजार भर्तियां 5 अगस्त तक पूरी हों। आत्म-निर्भर मप्र के लिए रोडमेप अनुसार कार्यवाही हो। मुख्यमंत्री ने सभी को नव वर्ष की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि नया साल प्रदेश की जनता के लिए मंगलमय और यशस्वी हो। प्रदेश की साढ़े 8 करोड़ जनता खुशहाल रहे। मुख्यमंत्री ने नए साल का रोडमेप सबके सामने रखा और उसका बेहतर क्रियान्यन करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आधार का बायोमैट्रिक सत्यापन हो। भारत सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं का क्रियान्वयन ढंग से हो। इज ऑफ डूइंग बिजनेस का क्रियान्वय जिलेवार ढंग से होना चाहिए। सरकार की प्राथमिकता अनुसार रोडमैप बनाकर पूरी क्षमता के साथ जुट जाएं। उन्होंने कहा कि हम उन महत्वपूर्ण लोगों में से हैं जो मध्यप्रदेश को बदलकर जनता को सुखी बना सकते हैं। मध्यप्रदेश की जनता का भाग्य और भविष्य बनाने के लिए डटकर कार्य करें। आनंद प्रसन्नता और उत्साह के साथ काम करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी को नव वर्ष की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ दीं। उन्होंने कहा कि नया साल प्रदेश की जनता के लिए मंगलमय हो, सब यशस्वी हों। प्रदेश की साढ़े आठ करोड़ जनता खुशहाल हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नए साल का रोडमैप सबके सामने रखा और उसे बेहतर ढंग से क्रियान्यन करने के निर्देश दिए।

कार्यक्रम का शुभारंभ मध्यप्रदेश गान से हुआ और समापन राष्ट्रगान से हुआ। कार्यक्रम में जनसंपर्क विभाग द्वारा तैयार की गई मध्य प्रदेश की उपलब्धियों पर केंद्रित लघुफिल्म का प्रदर्शन भी किया गया।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co