कलेक्टर और तहसीलदार को तत्काल बर्खास्त किया
कलेक्टर और तहसीलदार को तत्काल बर्खास्त किया Social Media

MP News: गढ़कुंडार महोत्सव में भड़के सीएम निवाड़ी कलेक्टर व ओरक्षा तहसीलदार को किया बर्खास्त

MP News: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने महोत्सव की अव्यवस्था को देखकर तथा कलेक्टर और तहसीलदार के खिलाफ शिकायते मिलने पर उनको तत्काल बर्खास्त कर दिया है।

मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज गढ़कुंडार में महोत्सव के लिए निवाड़ी जिले के दौरे पर हैं। महोत्सव की अव्यवस्था को देखकर तथा कलेक्टर और तहसीलदार के खिलाफ शिकायते मिलने पर उनको तत्काल बर्खास्त कर दिया हैं और उन पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने निवाड़ी कलेक्टर तरुण भटनागर को हटा दिया है, साथ ही ओरछा तहसीलदार संदीप शर्मा को भी तत्काल प्रभाव से हटाया है।

गढ़कुंडार महोत्सव में हुआ बड़ा एक्शन :

गढ़कुंडार में हो रहे महोत्सव के दौरान मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बड़ा एक्शन लिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निवाड़ी कलेक्टर और ओरछा तहसीलदार को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है। निवाड़ी जिले में जमीन नामांतरण में लापरवाही, शासकीय भूमि में हेर फेर की शिकायतों पर मुख्यमंत्री ने निवाड़ी कलेक्टर को हटाते हुए जांच करने के आदेश भी दिए है।

कार्यक्रम में सीएम को मिली अव्यवस्थायें :

निवाड़ी के गढ़कुंडार में महोत्सव आज से शुरू हुआ है। इस महोत्सव का शुभारंभ करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह गढ़कुंडार पहुंचे थे। जहाँ उन्हें अव्यवस्थायें देखने को मिली। गढ़कुंडार यूपी की बार्डर के पास है। सीएम शिवराज सिंह गढ़कुंडार हैलीकाप्टर से पहुंचे। लेकिन उन्हें हेलीपैड व महोत्सव स्थल पर कई अव्यवस्थाएं मिलीं। साथ ही लोगाें से मिली शिकायतों पर एक्शन लेते हुए मुख्यमंत्री ने कलेक्टर तरुण भटनागर व ओरछा तहसीलदार संदीप शर्मा को हटाने के आदेश दे दिए है।

जानकारी के अनुसार, कलेक्टर और तहसीलदार लम्बे अरसे से हेरा-फेरी कर रहे थे। निवाड़ी भाजपा जिलाध्यक्ष अखिलेश अयाची की शिकायत पर सीएम ने कलेक्टर तरुण भटनागर व ओरछा तहसीलदार संदीप शर्मा को हटा दिया है। जमीनों के फर्जी पट्टे व आदिवासी जमीनों को हड़पने की शिकायत दोनों अफसरों की हुई थी पूर्व में आईएएस तरुण भटनागर पर जांच हो चुकी है और उन पर मामला भी चल रहा है।

बताया जा रहा है कि, गढ़कुंडार में मोबाइल नेटवर्क आदि की समस्या है। ऐसे में मुख्यमंत्री के साथ गई टीम कार्यक्रम का लाइव प्रसारण नहीं कर पा रही थी और इंटरनेट मीडिया पर भी कार्यक्रम नहीं चल रहा था। नेटवर्क की व्यवस्था करना कलेक्टर सहित जिला प्रशासन का काम होता है, लेकिन प्रशासन व्यवस्था नहीं कर पाया। इस बात से मुख्यमंत्री नाराज हो गए साथ ही भाजपा के जिलाध्यक्ष अखिलेश अयाची ने भी शिकायत कर दी। इसके बाद सीएम ने तुरंत दोनों अफसरों को हटाने के आदेश दे दिए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co