प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का दूसरा दिन
प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का दूसरा दिनSocial Media

हमारा संकल्प है कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में भारत आर्थिक,ज्ञान और आत्मनिर्भर शक्ति बनें: मुख्यमंत्री

प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का दूसरा दिन: प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के दूसरे दिन के सत्र को संबोधित करते हुए पीएम के नेतृत्व में सीएम और सूरीनाम के राष्ट्रपति ने मंच से सम्बोधित किया।

इंदौर, मध्य प्रदेश।इंदौर में तीन दिन तक चलने वाला प्रवासी भारतीय सम्मेलन रविवार को शुरू हो गया है। ऐसे में आज प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का दूसरा दिन है। पहले दिन उद्घाटन सत्र को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने संबोधित किया था। सम्मलेन के दूसरे दिन प्रधानमंत्री के नेतृत्व सीएम ने मंच को सम्बोधित करते हुए आत्मनिर्भर शक्ति बनकर लगातार आगे बढ़ने का संकल्प लिया है। जैसे ही पीएम मोदी ब्रिलियंट कन्वेंशन हॉल पहुंचे, तो जोर-जोर से मोदी-मोदी के नारे लगने लगे। जोर-शोर से उनका स्वागत हुआ।

सीएम ने मंच को सम्बोधित करते हुए कहा-

प्रवासी भारतीय सम्मेलन के तहत युवा प्रवासी भारतीय दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह के अपने उद्बोधन के दौरान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में सभी का स्वागत वंदन करते हुए पीएम मोदी के कार्य की सराहना की, मुख्यमंत्री ने कहा कि, आज भारत देश पूरी दुनिया को प्रेम और शांति का सन्देश देते हुए आगे बढ़ रहा है। आगे कहते है कि, प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत को आत्मनिर्भर, आर्थिक शक्ति और ज्ञानशक्ति से संपन्न बनाना है। उन्होंने कहा कि, 100 साल पहले नरेंद्र 'विवेकानंद' ने जो कहा था। आज एक नरेंद्र मतलब हमारी पीएम नरेंद्र मोदी उसे पूरा कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री के सम्बोधन से पहले सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी ने अपना संबोधन दिया। सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखीने प्रधानमंत्री मोदी को प्रवासी भारतीय दिवस की हिंदी में बधाई देते हुए कहा, पीएम मोदी की मां हीराबा को श्रद्धांजलि देते हुए कहा प्रधानमंत्री मोदी की मां हीराबा के निधन पर शोक प्रकट करता हूं। उन्होंने कहा कि, इंदौर की पहचान दुनिया के सबसे साफ शहरों में से एक के रूप में है, प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में यहां आकर अभिभूत हूं।

सम्मेलन में 70 देशों के सदस्य होंगे शामिल :

प्रवासी भारतीय सम्मेलन के अमृत काल में भारत की प्रगति के विश्वसनीय भागीदार’ की थीम के तहत हो रहे तीन दिवसीय सम्मेलन में 70 देशों से 3500 से अधिक सदस्य हिस्सा लेंगे। सम्मेलन के पहले दिन गुयाना के राष्ट्रपति मोहम्मद इरफान अली, सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी, ऑस्ट्रेलिया की सांसद जेनेटा मैस्करेनहास शामिल होंगे। विदेश मंत्री एस जयशंकर सोमवार को उद्घाटन संबोधन देंगे। प्रवासी भारतीय दिवस हर साल 9 जनवरी को मनाया जाता है। तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने वर्ष 2002 में इसे मनाने की घोषणा की थी। यह दिन महात्मा गांधी की भारत वापसी का प्रतीक है। महात्मा गांधी वर्ष 1915 में दक्षिण अफ्रीका से स्वदेश लौटे थे। 2015 के बाद से यह हर दूसरे साल मनाया जाता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co