आलोट थाने पर भाजपा नेताओं का धरना प्रदर्शन
आलोट थाने पर भाजपा नेताओं का धरना प्रदर्शनSudha Choubey - RE

आलोट थाने पर भाजपा नेताओं का धरना प्रदर्शन, पुलिसकर्मियों पर अवैध वसूली करने के आरोप

रतलाम जिले के आलोट पुलिस पर किसानों से अवैध वसूली करने का आरोप लगा है। इसको लेकर आलोट में भाजपा नेताओं ने किसानों ने धरना प्रदर्शन किया।

रतलाम, मध्य प्रदेश। रतलाम जिले के आलोट पुलिस पर किसानों से अवैध वसूली करने का आरोप लगा है। इसको लेकर आलोट में भाजपा नेताओं ने किसानों के साथ मिलकर पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ऐसे में आज मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के आलोट थाने के बाहर कुछ लोगों ने धरना प्रदर्शन किया। धरने में भाजपा नेता और कार्यकर्ता भी शामिल हैं। सत्ताधारी दल भाजपा के नेताओं सहित धरना दे रहे लोगों ने आलोट पुलिस पर अवैध वसूली का आरोप लगाया और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

बता दें कि, भाजपा मंडल अध्यक्ष विक्रम सिंह अंजना, पूर्व मंडल अध्यक्ष दिनेश कोठारी भी धरना प्रदर्शन में शामिल हैं। उन्होंने नारेबाजी करते हो पुलिस पर ग्रामीणों से अवैध वसूली करने के गंभीर आरोप लगाए हैं। आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ता पुलिस कर्मी को सस्पेंड कराने की मांग कर रहे हैं। आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ता पुलिसकर्मी को सस्पेंड कराने की मांग कर रहे हैं।

किसानों और भाजपा नेताओं का कहना:

किसानों और भाजपा नेताओं का कहना है कि, मानसून आने के पहले किसानों द्वारा अपने खेतों की लेवलिंग, समतलीकरण एवं कुंआ निर्माण के मटेरियल को फेंकने का कार्य करने के साथ प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अपने मकान के नवीन निर्माण के लिए कच्चे मकान तोड़ने के लिए जेसीबी का उपयोग किया जा रहा है।

भाजपा नेताओ ने कहा कि, पुलिस की तानाशाही से आमजन एवं किसान परेशान है। वर्तमान में शासन की योजना अनुसार, कई ग्रामीण क्षेत्रों में सुदूर सड़क एवं जल जीवन मिशन के तहत कई निर्माण कार्य चल रहे हैं तथा पाइप लाइन के ये खोदाई का कार्य भी चल रहा है। जिनके लिए जेसीबी का उपयोग होता है और पुलिस द्वारा किसानों पर झूठे प्रकरण बनाने की धमकी देकर अवैध वसूली की जा रही है। जब तक कार्रवाई नही होती धरना जारी रहेगा।

किसानों ने लगाए यह आरोप:

वहीं, विक्रमगढ़ के किसान गोपाल पुत्र अमरचंद माली ने शपथ पत्र देकर पुलिस पर अवैध वसूली के आरोप लगाते हुए बताया कि, उन्होंने अपने मकान के वेस्ट मटेरियल को उठाने के लिए राम सिंह की जेसीबी बुलवाई थी। रात एक बजे आलोट थाने से दो पुलिसकर्मी आए और जेसीबी जब्त करने एवं प्रकरण बनाने की धमकी देकर 15 हजार रुपए की मांग की। घबराकर 10 हजार रुपए दे दिए।

वहीं, जेसीबी ड्राइवर भारत पुत्र शंकरलाल मालवीय निवासी ग्राम पिपलिया पीथा ने शपथ पत्र देकर आरोप लगाया कि, 23 मई को रात दो बजे वे ग्राम दूधिया के विनोद पंडित के खेत पर कुंए का मटेरियल फेंकने का कार्य कर रहा था। तब आलोट से चार पुलिसकर्मी आए और जेसीबी रोकते हुए बोले कि, तुम अवैध खनन कर रहे हो, तुम्हारी मशीन जब्त कर प्रकरण बनाना पड़ेगा। गाली गलौज कर जेल भेजने की धमकी देकर 50 हजार की मांग करने लगे। मैंने रुपए देने के लिए मना किया। पुलिसकर्मी मुझे करीब 1 किलोमीटर दूर ले गए। मुझसे 20 हजार छीन लिए।

मंगलवार को किसान शंकरलाल मालवीय ने यह घटनाक्रम सभी को बताया। एक अन्य ग्रामीण ने भी शपथ देखकर पुलिस की अवैध वसूली की बात कही है। यह जानकारी लगने पर मंगलवार को भाजपा के मंडल अध्यक्ष विक्रम सिंह सहित अन्य कार्यकर्ता थाने पर पहुंचे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co