MP Politics News : पूर्व CM दिग्विजय सिंह बोले - फूट डालो और राज करो की राजनीति से बचिए

Digvijay Singh Attacks On Champat Rai : फूट डालो और राज करो की राजनीति से बचिए। देश को व समाज को जोड़िए, तोड़िये मत। मोदीजी आपके सभी प्रयासों पर चंपत राय जी पानी फेर रहे हैं।
Digvijay Singh Attacks On Champat Rai
Digvijay Singh Attacks On Champat RaiRE - Bhopal
Submitted By:
Himanshu Singh

हाइलाइट्स :

  • दिग्विजय सिंह ने चंपत राय पर साधा निशाना।

  • पीएम मोदी चंपत राय जैसे लोगों को बर्दाश्त करेंगे।

  • मोदी जी के सभी प्रयासों पर चंपत राय फेर रहे पानी।

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह इन दिनों अपने बयानों से सुर्ख़ियों में बने हुए हैं। पूर्व सीएम ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म 'X' पर लिखा है कि कब तक आप (पीएम मोदी) चंपत राय जैसे लोगों को बर्दाश्त करेंगे? फूट डालो और राज करो की राजनीति से बचिए। देश को व समाज को जोड़िए, तोड़िये मत। आगे उन्होंने कहा कि चंपत राय ने सभी हिंदुओं के धर्म गुरु शंकराचार्य जी की पीठ को यह कहते हुए अपमानित किया था कि रामलला के मंदिर पर रामानन्दी संप्रदाय का हक़ है।

सोशल मीडिया प्लेटफार्म 'X' पर क्या कहा

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने कहा कि चंपत राय जी ने सभी हिंदुओं के धर्म गुरु शंकराचार्य जी की पीठ को यह कहते हुए अपमानित किया था कि राम लला के मंदिर पर रामानन्दी संप्रदाय का हक़ है। अब रामानन्दी संप्रदाय के प्रमुख पीठाधीश्वर स्वामी रामनरेशाचार्य जी को सुन लीजिए। पहले उन्होनें 2500 वर्ष पुरानी शंकराचार्य जी की गादी को अपमानित किया और अब समस्त रामानंदी संप्रदाय को अपमानित किया। चंपत राय जी व विश्व हिन्दू परिषद् को सभी पीठों के शंकराचार्य जी से व रामानंदी संप्रदाय के प्रमुख स्वामी रामनरेशाचार्य जी से माफ़ी मांगना चाहिए। मोदी जी आपके सभी प्रयासों पर चंपत राय जी पानी फेर रहे हैं।

आगे उन्होंने लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आप सारे प्रयासों के बाद विश्व हिन्दू परिषद् के चंपत राय के बयान के कारण विवादित हो रहे हैं। पहले शंकराचार्य जी के 2500 वर्षों की पीठ के पीठाशीश्वर को अपमानित किया। अब रामानन्द सम्प्रदाय के प्रमुख जगद्गुरु रामनरेशाचार्य जी का साक्षात्कार सुन लीजिए। कब तक आप चंपत राय जैसे लोगों को बर्दाश्त करेंगे? “फूट डालो और राज करो” की राजनीति से बचिए। देश को व समाज को जोड़िए, तोड़िये मत।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co