डॉ. गोविंद सिंह ने बीजेपी पर साधा निशाना
डॉ. गोविंद सिंह ने बीजेपी पर साधा निशानाSocial Media

कांग्रेस MLA के हवाई फायर पर डॉ.गोविंद सिंह ने कहा- केस दर्ज करने का BJP ने बनाया दबाव

मप्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविन्द सिंह ने विधायक सुनील सर्राफ पर दर्ज प्रकरण को वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि, हर्ष फायर कोई अपराध नहीं हैं।

मध्यप्रदेश। विगत दिवस पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हुआ था, जिसमें एक कांग्रेस विधायक सुनील सर्राफ ने अपने जन्मदिन पर हवाई फायर किया था, जिसे लेकर काफी हड़कंप मच गया था। जिस पर मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कार्यवाही के निर्देश दिए थे। हालांकि, कांग्रेस विधायक ने अपनी सफाई देते हुए बता दिया हैं कि, रिवॉल्वर नकली थी। केस दर्ज होने के बाद ये मुद्दा और भी ज्यादा गरमा गया हैं।

मप्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ.गोविन्द सिंह ने विधायक सुनील सर्राफ पर दर्ज प्रकरण को वापस लेने की मांग की है। नेता प्रतिपक्ष ने हर्ष फायरिंग की घटनाओं पर भी बड़ा बयान दिया, उन्होंने कहा कि, हर्ष फायर कोई अपराध नहीं हैं।

बीजेपी के दबाव में किया प्रकरण दर्ज :

कांग्रेस विधायक सुनील के मामले को लाइट करते हुए नेता प्रतिपक्ष डॉ.गोविन्द सिंह ने कहा- गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सरकार और बीजेपी के दबाव में हमारे पार्टी के विधायक सुनील सर्राफ के खिलाफ प्रकरण दर्ज करके जो बहादुरी दिखाई है उस पर मैं उनसे कहना चाहता हूं कि, कुछ समय पहले ग्वालियर में भाजपा नेता के पुत्र ने उत्सव के समय लगातार हर्ष फायर किए। समाचारों में यह घटना सामने आई। केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के भाई जालम सिंह पटेल के पुत्र ने अपने अपने जन्मदिवस, नए साल के उपलक्ष्य में उन्होनें खुलेआम हर्ष फायर किए लेकिन उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज नहीं किया गया। मैं नरोत्तम मिश्रा से कहना चाहता हूं कि, आप इन लोगों पर भी हिम्मत दिखाएं। अगर आप साफ-सुथरी राजनीति करते हैं तो पक्ष-विपक्ष न देखकर न्यायोचित काम करना चाहिए। सरकार का काम एकपक्षीय काम करना नहीं न्याय देना है।

फायरिंग को पटाखों और लट़्ठ चलाने के सामान बताया :

कांग्रेस विधायक के हवाई फायरिंग की दीवाली में चलाये जाने वाले पटाखों से करते हुए गृहमंत्री से केस वापस लेने को कहा, "मेरा कहना है कि, हर्ष फायर में कोई अपराध नहीं मानना चाहिए। हर्ष फायर करना, पटाखे चलाना, दीवाली के बाद जब भुजरियां विसर्जित करने जाते हैं, तो उस समय चांदमारी की परंपरा अब तक चल रही है। मैं ये कहता हूं कि, अगर ये अपराध है तो आपकी संघ के कार्यकर्ता बंदूक लेकर, लट़्ठ चलाना, सामाजिक रूप से प्रदर्शन करना क्या ये अपराध नहीं हैं। ये परंपरा है हमारी। भारतीय परंपरा में त्योहार मनाना, हर्ष फायर करना, जब हमारे यहां गांव में बच्चा होता है तो कांसे की थाली बजाई जाती है। किसी के यहां पुत्र होता है तो खुशहाली में फायर करते हैं ये अपराध की श्रेणी में नहीं आता। मैं गृहमंत्री से अनुरोध करता हूं कि, हमारी पार्टी के विधायक सुनील सर्राफ पर जो प्रकरण दर्ज हुआ है उसे तत्काल वापस लें अन्यथा अपनी पार्टी के नेताओं के खिलाफ भी केस दर्ज करने की हिम्मत दिखाएं"

दरअसल, 1 जनवरी को कांग्रेस विधायक सुनील का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वे फायरिंग करते दिखाई दे रहे हैं। इसकी शिकायत पूर्व विधायक दिलीप जयसवाल ने पुलिस अधीक्षक से की है, जिसके बाद इस मामले में मध्यप्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि, कांग्रेस विधायक द्वारा पिस्टल लहराने के मामले में अनूपपुर पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co