ऑक्सीजन की किल्लत के बीच पूर्व पशुपालन मंत्री ने CM शिवराज को दिए ये सुझाव

जबलपुर, मध्यप्रदेश। एमपी में कोरोना संक्रमण के बढ़ने के साथ-साथ आक्सीजन की किल्लत भी बढ़ती जा रही है, इस समस्या को काफी हद तक कम करने के लिए पूर्व पशुपालन मंत्री ने सरकार को सुझाव दिए हैं।
पूर्व पशुपालन मंत्री ने CM को दिए ये सुझाव
पूर्व पशुपालन मंत्री ने CM को दिए ये सुझावPriyanka Yadav-RE
Submitted By:
Priyanka Yadav

जबलपुर, मध्यप्रदेश। एमपी में कोरोना की लहर पहले की तुलना में ज्यादा घातक हो चुकी है, बता दें कि कोरोना के संक्रमण को लेकर मध्यप्रदेश हाहाकार मचा हुआ है, हालात ऐसे हैं कि नए संक्रमितों और मौत के आंकड़ों ने अस्पताल और श्मशान घाटों की व्यवस्था बिगाड़ दी है। हालात को देखते हुए कई शहरों में भी लाॅकडाउन लगा है तब भी स्थिति में सुधार नहीं हो पा रहा है।

MP में बढ़ती जा रही है आक्सीजन की किल्लत :

बताते चलें कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण ने जहां पैर पसार लिए हैं, वहीं कोरोना संकट के कारण मध्यप्रदेश में बेड, ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी पूरी नहीं हो पा रही है। लगातार बढ़ते संक्रमण से व्यवस्थाएं चरमरा गई हैं। एमपी में कोरोना संक्रमण के बढ़ने के साथ-साथ आक्सीजन की किल्लत भी बढ़ती जा रही है, बता दें कि संक्रमण के बढ़ते मामलों के साथ ऑक्सीजन की कमी से हो रही मौतों पर लगातार बवाल मच रहा है।

पूर्व पशुपालन मंत्री ने राज्य सरकार को दिए महत्वपूर्ण सुझाव :

मध्यप्रदेश में इन दिनों ऑक्सीजन को लेकर काफी किल्लत बनी हुई है। ऐसे में अब ऑक्सीजन के परिवहन करने वाले टैंकरों की भी कमी प्रदेश में दिखने लगी है, इस समस्या को काफी हद तक कम करने के लिए पूर्व पशुपालन मंत्री अजय विश्नोई ने राज्य सरकार को महत्वपूर्ण सुझाव दिए हैं, पूर्व पशुपालन मंत्री अजय विश्नोई ने कहा कि क्यों ना पशुपालन विभाग में रखे हुए 4 बड़े ऑक्सीजन टैंकरों का ऑक्सीजन परिवहन पर उपयोग किया जाए, यह ऑक्सीजन टैंकर मध्य प्रदेश के 4 जिलों में बांट दिए जाएं।

पूर्व पशुपालन मंत्री ने किया ट्वीट-

पूर्व पशुपालन मंत्री अजय विश्नोई ने किया ट्वीट, कहा- मैंने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बताया कि पशुपालन विभाग के पास 6-6 टन के 4 ऑक्सीजन टैंकर हैं। इन सभी के लिये जिंदल रायगढ़ से ऑक्सीजन मिल सकती है। इन्हें अधिग्रहित कर एक-एक जबलपुर, भोपाल, इंदौर और ग्वालियर को दे सकते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co