कार्यक्रम की तैयारी का जायजा लेते अदिकारी गण
कार्यक्रम की तैयारी का जायजा लेते अदिकारी गणRaj Express

Gwalior : नए साल में होगा स्टेशन के कायाकल्प का शिलान्यास

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : रेलवे स्टेशन के 467.79 करोड़ रुपए से होने वाले स्टेशन पुननिर्माण के भूमिपूजन में नए साल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 3 या 6 जनवरी को वर्चुअल रूप से शामिल हो सकते हैं।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। रेलवे स्टेशन के 467.79 करोड़ रुपए से होने वाले स्टेशन पुननिर्माण के भूमिपूजन में नए साल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 3 या 6 जनवरी को वर्चुअल रूप से शामिल हो सकते हैं। इसी वर्चुअल कार्यक्रम की तैयारी को अंतिम रूप देने के लिए शुक्रवार को उत्तर मध्य रेलवे के डीआरएम आशुतोष सहित इस प्रोजेक्ट से जुड़े रेलवे के कई आला अफसर सहित एनसीआर मंडल के सीपीआरओ हिमांशु शेखर उपाध्याय भी ग्वालियर स्टेशन आए और उन्होंने व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

झांसी से आए अफसर सुबह उत्कल एक्सप्रेस से झांसी से ग्वालियर आए और पुन:विकास के होने वाले कार्यों का निरीक्षण कर उन्हें फाइनल टच दिया। यहां बता दें कि उत्तर मध्य रेलवे ने ग्वालियर रेलवे स्टेशन पुनर्विकास का टेंडर हैदराबाद की कंपनी को दे दिया है, लेकिन टेण्डर जारी होने के बाद भी अभी तक काम शुरु नहीं हो सका है। इसकी वजह भूमिपूजन को ही बताया जा रहा है। रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार स्टेशन पुनर्विकास के भूमिपूजन की तारीख तय नही हुई है,लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि 3 अथवा 6 जनवरी को भूमिपूजन रेल मंत्री अनिल वैष्णव करेंगे, वहीं बर्चुअली रूप से प्रधामंत्री भी इसमें शामिल हो सकते हैं। इसी को देखते हुए शुक्रवार को झांसी डीआरएम आशुतोष सहित प्रयागराज साहित झांसी मण्डल के एक दर्जन से अधिक रेल अफसर शुक्रवार सुबह उत्कल एक्सप्रेस से झांसी से ग्वालियर पहुंचे और स्टेशन पर होने वाले विकास कार्यों की जानकारी ली।

हेरीटेज स्वरूप से नहीं होगी छेड़छाड़ :

ग्वालियर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की परिकल्पना आज से तीन साल पहले तैयार की गई थी। ग्वालियर रेलवे स्टेशन को एयरपोर्ट की तर्ज पर कंपनी तैयार करेगी। 18 अक्टूबर 2022 को केपीसी प्रोजेक्ट हैदराबाद को 462.79 करोड़ में टेंडर दिया गया है। स्टेशन पर एक विशाल कानकोर्स उपलब्ध होगा, एक समय में ढाई हजार यात्री एक साथ आ व जा सकेंगे, इसके साथ ही स्टेशन के हेरिटेज स्वरुप से कोई छेड़छाड़ नहीं किया जाएगा। पुरानी धरोहर को संजोकर ही स्टेशन के विकास को गति देकर स्टेशन को नए प्रकार से स्थापित किया जाएगा। स्टेशन का मुख्य आर्कषण सूूर्य की रोशनी सीधे प्लेटफार्म पर पड़ेगी जो एक नया अनुभव मुसाफिरों को कराएगा।

मंडल रेल प्रबंधक ने लगाई फटकार :

इस दौरान मंडल रेल प्रबंधक आशुतोष स्थानीय अधिकारियों के साथ निरीक्षण के दौरान जब वे वेटिंग हॉल में पहुंचे तो दीवार पर सीढऩ देख उन्होनें एईएन अंकुर गुप्ता से कहा कि आप यहां पर क्या देखते हो, यहां सीलऩ आ रही है। इसी बीच स्टेशन निदेशक एलआर सोलंकी से कहा कि कम से कम आप तो छोटे-मोटे काम करवा ही सकते हो। आशुतोष ने स्टॉल पर जनता खाना, स्टेशन परिसर का निरीक्षण किया। इस मौके पर उनके साथ सीनियर डीसीएम शशिकांत त्रिपाठी, स्टेशन निदेशक एलआर सोलंकी, स्टेशन प्रबंधक थॉमस पी जॉर्ज, सीपीआरओ हिमांशु शेखर उपाध्याय, जनसंपर्क अधिकारी मनोज कुमार सिंह आदि मौजूद थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co