नहीं हो सका मेला का उद्घाटन
नहीं हो सका मेला का उद्घाटनRaj Express

Gwalior : धरी रह गई तैयारी, बिछी रह गई कुर्सियां, नहीं हो सका मेला का उद्घाटन

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : 5 जनवरी को मेला का उद्घाटन करने आ रहे केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के नहीं आने से मेला का उद्घाटन फिलहाल टल गया है। मेला उद्घाटन की आगामी तारीख अब बाद में तय की जाएगी।

हाइलाइट्स :

  • सिंधिया के नहीं आने से मेला का उद्घाटन टला।

  • मेला में अभी भी ठुक रही दुकानें, सजकर नहीं हुआ तैयार।

  • कोरोना के डर से दुकान लगाने में हिचक रहे दुकानदार।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। मेला पर एक बार फिर से कोरोना का साया मंडराने लगा है। देश में बढ़ रहे कोरोना के केसों को जानकर मेला व्यापारी असमंजस में हैं और वे अपनी दुकानें सजाने में ढील डाल रहे हैं, यही वजह है कि मेला अवधि के दस दिन निकल जाने के बाद भी मेला अभी पूरी तरह तैयार नहीं हो सका है। इस बीच 5 जनवरी को मेला का उद्घाटन करने आ रहे केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के नहीं आने से मेला का उद्घाटन फिलहाल टल गया है। मेला उद्घाटन की आगामी तारीख अब बाद में तय की जाएगी।

मेला व्यापारी संघ के तमाम ज्ञापनों के बाद केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की पहल पर उद्योग मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने 25 दिसंबर से मेला आयोजन की घोषणा कर दी, लेकिन मेला की तैयारियां जोर पकड़ पाती इसी बीच देश में कोरोना की सुगबुगाहट शुरू हो गई। कहते हैं कि दूध का जला छाछ भी फूंक-फूंक कर पीता है। पिछला मेला कोरोना की वजह से बीच में ही बंद हो गया था, जिससे मेला व्यापारियों को भारी नुकसान उठाना पड़ा था और प्राधिकरण ने उनका किराया भी वापस नहीं किया था। फिर से ऐसी स्थिति निर्मित नहीं हो, इस डर से मेला व्यापारी असमंजस में हैं। दुकानों का आवंटन होने के बाद भी उन्होंने अपनी दुकानें बनाना शुरू नहीं किया है, जिससे मेला अवधि के दस दिन बीत जाने के बाद भी मेला में अभी काफी दुकानें खाली पड़ी हैं। मेला के सबसे प्रमुख आकर्षण ऑटोमोबाइल सेक्टर भी अभी तैयार नहीं हुआ है। ऑटोमोबाइल डीलरों ने तो स्टॉल लगाकर वाहन बेचना शुरू कर दिए थे, जिसका समाचार राजाएक्सप्रेस ने प्रमुखता से छापा था, जिसके बाद आरटीओ ने आदेश जारी किया कि शोरूम नहीें बनाए तो मेला छूट नहीं दी जाएगी। उसके बाद ऑटोमोबाइल में शोरूम बनने शुरू हुए हैं। अब मेला के उद्घाटन कब होगा, यह कहना अभी मुश्किल है, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि ऑटोमोबाइल के शोरूम तैयार होने और कोरोना को लेकर सकारात्मक संदेश मिलने के बाद ही मेला के उद्घाटन की तारीख तय की जाएगी।

मेले में आधी रात को चले लात-घूंसे :

उधर मेला की सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। गतरात्रि मेला के झूला सेक्टर में जमकर लातघूसें चले, जिसका वीडियो वायरल होते ही पुलिस उत्पातियों की तलाश में जुट गई है, लेकिन ठंड के दौरान पुलिस का एक भी जवान मौके पर नजर नहीं आया, जिससे मेला की सुरक्षा सवालों के घेरे में कैद हो गई है। वीडियो में आधा दर्जन बदमाश एक युवक को लात-घूसों और बेल्टों से पीटते नजर आ रहे हैं। बताते हैं कि मेला घूमने आए बदमाशों और युवक की किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। जिससे नाराज होकर युवक को पीटना शुरू कर दिया था। हैरत की बात यह है कि इतनी भीड़ के बीच बदमाश हंगामा और मारपीट करते रहे लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। मारपीट का वीडियो जैसे ही पुलिस के संज्ञान में आया पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। हैरानी की बात यह है कि पुलिस को इस हंगामे और मारपीट की भनक तक नहीं लगी। एक अन्य युवक जो मेला घूमने आया था उसने बीच बचाव कर पिट रहे युवक को बचाया। मारपीट करने के बाद हमलावर भाग गए। गोला का मंदिर थाना सर्किल के एडिशनल एसपी राजेश दंडोतिया कहना है कि सोशल मीडिया पर एक मारपीट का वीडियो सामने आया है। वीडियो को संज्ञान में ले लिया है जल्दी मारपीट करने वाले युवाओं को हिरासत में ले लिया जाएगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co