हुकुमचंद मिल मजदूरों को 30 साल संघर्ष के बाद मिली बकाया राशि
हुकुमचंद मिल मजदूरों को 30 साल संघर्ष के बाद मिली बकाया राशिRaj Express

हुकुमचंद मिल मजदूरों को 30 साल संघर्ष के बाद मिली बकाया राशि, CM ने दिया चेक, PM बोले-श्रमिकों के धैर्य को नमन

CM Dr. Mohan Yadav In Indore : इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव द्वारा 8 विभागों के कुल 71 कार्यों का लोकार्पण किया गया।

हाईलाइट्स :

  • 105 करोड़ के विकास कार्यों का किया गया लोकार्पण।

  • कार्यक्रम में भाजपा के कई नेता मौजूद।

  • सांकेतिक रूप से सौंपा गया 217 करोड़ का चेक।

इंदौर, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सोमवार को इंदौर में 322 करोड़ के विकास कार्यों का होगा भूमिपूजन और 105 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण किया। इसी के साथ पिछले 30 वर्षों से लंबित चल रहे हुकुमचंद मिल मजदूरों की समस्या का निराकरण भी कर दिया गया। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़े। सीएम यादव ने श्रमिकों को पीएम मोदी की तरफ से 217 करोड़ का चेक दिया। इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा, आज का कार्यक्रम श्रमिकों की बरसों की तपस्या का परिणाम है। श्रमिकों के धैर्य को मेरा नमन।

इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव द्वारा 8 विभागों के कुल 71 कार्यों का लोकार्पण किया गया। इन विकास कार्यों की कुल लागत 105.73 करोड़ हैं। इसी तरह 3 विभागों के विकास कार्यों का भूमिपूजन भी किया गया जिनकी कुल लागत 322.85 करोड़ हैं। कार्यक्रम स्थल पर विकसित भारत संकल्प यात्रा कैंप का भी आयोजन किया गया था।

कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये शामिल हुए पीएम मोदी
कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये शामिल हुए पीएम मोदीRaj Express

पीएम मोदी इस कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये शामिल हुए। उन्होंने कहा कि, आज का कार्यक्रम श्रमिकों की बरसों की तपस्या का परिणाम है। अटल जी की जयंती पर, मध्यप्रदेश में मेरा पहला सार्वजानिक कार्यक्रम है। मुझे विशवास है डबल इंजन की सरकार को मजदूरों और गरीबों का आशीर्वाद जरूर मिलेगा। मुझे बताया गया कि, जब मजदूरों के लिए पैकेज का ऐलान किया गया तो इंदौर में उत्सव मनाया गया। यह दिन इसलिए भी विशेष है क्योंकि आज सुशासन दिवस भी है। इसके लिए सभी को बधाई।

पीएम मोदी आगे कहा, आज सांकेतिक तौर पर 220 करोड़ रुपए का चेक सौंपा गया। श्रमिकों ने कई चुनौतियों का सामना किया है आज का दिन श्रमिकों को न्याय मिलने के दिन के रूप में याद किया जायेगा। आपके धैर्य को मेरा नमन। मेरे लिए गरीब, युवा, मिलाएं और किसान भाई बहन ही चार प्रमुख जाती हैं।

मजदूर परिवार से आने के नाते मैं ये पीड़ा अच्‍छे से समझता हूँ :

इस अवसर पर सीएम यादव ने कहा, एक मिल मजदूर के परिवार से आने के नाते मैं ये पीड़ा अच्‍छे से समझ सकता हूं कि मिल में काम करने वाले मजदूर अपने परिवार का पालन-पोषण कैसे करते हैं। उन्होंने अटल बिहार वाजपेयी को याद करते हुए कहा, स्‍व. अटल बिहारी वाजपेयी जी अद्वितीय व्यक्तित्व के धनी थे...हम सबको गर्व है कि अटल जी ने उज्‍जैन जिले की बड़नगर तहसील से अपनी प्राथमिक शिक्षा ग्रहण की थी।

क्या था हुकुमचंद मिल मामला :

हुकुमचंद मिल 70 वर्ष सफलता पूवर्क चलने के बाद 1992 में बंद हो गई थी। मिल मजदूर और बैंकों की देनदारियां 30 वर्षों तक न्यायालय एवं अन्य प्रक्रिया में लंबित रही। राज्य शासन ने पहली बार 2022 में पहल की और गृह निर्माण मंडल को समझौता कर, राशि भुगतान का उत्तरदायित्व दिया गया। एक वर्ष के अंदर सभी दावेदारों के साथ समझौता सुनिश्चित कराया गया और श्रमिक यूनियन के साथ भी सहमति सहित समझौता हुआ। उच्च न्यायालय ने समझौता प्रस्ताव को सहमति दी और मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने 19 दिसम्बर 2023 को स्वीकृति प्रदान की तथा 20 दिसम्बर को उच्च न्यायालय में राशि जमा कर दी गई। अब सीएम ने सांकेतिक रूप से चेक दिया है जल्द ही मजोरों को ये राशि मिलनी शुरू हो जाएगी।

सीएम यादव ने इंदौर पहुँच कर एशियाई चैंपियनशिप घुड़सवारी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने वाली श्रुति हजेला से भी मुलाक़ात की थी। उन्होंने कहा कि, हमें अपनी बेटी पर गर्व है... एशियाई चैंपियनशिप की घुड़सवारी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने वाली श्रुति हजेला जी को हृदय से बधाई। भविष्य में भी आप प्रदेश व देश का नाम इसी तरह गौरवान्वित करती रहें, इसके लिए शुभकामनाएं। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व इंदौर-1 से विधायक कैलाश विजयवर्गीय भी उपस्थित रहे।

सीएम यादव ने एशियाई चैंपियनशिप घुड़सवारी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने वाली श्रुति हजेला से भी मुलाक़ात की।
सीएम यादव ने एशियाई चैंपियनशिप घुड़सवारी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने वाली श्रुति हजेला से भी मुलाक़ात की। Raj Express

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co