आई.ए.एस. सर्विस मीट 2022-23
आई.ए.एस. सर्विस मीट 2022-23Social Media

कोविड के 2 साल बाद फिर से शुरू आई.ए.एस. सर्विस मीट, इसमें वैचारिक विषयों पर होगा मंथन: सीएम

भोपाल, मध्यप्रदेश: कोविड के 2 साल बाद फिर से शुरू आई.ए.एस. सर्विस मीट 2022-23 का सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शुभारंभ किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी में कोरोना की वजह से पिछले दो साल से नहीं हो रही आईपीएस मीट आज फिर से शुरू हो गई है। कोविड के 2 साल बाद फिर से शुरू आई.ए.एस. सर्विस मीट 2022-23 का सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने शुभारंभ किया।

मुख्यमंत्री ने तीन दिवसीय आई.ए.एस. सर्विस मीट 2022-23 का किया शुभारंभ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने भोपाल के आर.सी.वी.पी. नरोन्हा प्रशासन अकादमी में तीन दिवसीय आई.ए.एस. सर्विस मीट 2022-23 का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि, आप और हम मिलकर मध्यप्रदेश को प्रगति एवं विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जायेंगे।

आज आईएएस मीट प्रारंभ हुई

बता दें, कोरोना के चलते दो साल से मीट नहीं हुई है। कोविड के 2 साल बाद फिर से आई.ए.एस. सर्विस मीट शुरू हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि, आज आईएएस मीट प्रारंभ हुई है। दिन-रात काम करने के बाद कुछ पल ऐसे निकलने चाहिए जब रूटीन के अलावा खेल सहित अन्य गतिविधियां करें। यह पुनः कार्य करने की ऊर्जा उत्पन्न करता है। इस मीट में वैचारिक विषयों पर भी मंथन होगा। यह #TeamMP है जो मिलकर काम करती है।

कोविड के 2 साल बाद अब हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं। दो साल बाद आईएएस मीट हो रही है। लेकिन यह केवल मीट नहीं है बल्कि इसमें वैचारिक विषयों पर भी मंथन होगा। यह टीम मध्यप्रदेश है जो मिलकर काम करती है।

मुख्यमंत्री शिवराज

इस कार्यक्रम में सीएम ने अफसरों को दी कई नसीहतें

कोरोना के संकट से राहत मिलने के बाद भोपाल में आईएएस सर्विस मीट की शुरुआत हुई। इस कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अफसरों को कई नसीहतें दीं और अच्छा काम करने वाले इनोवेशन करने वाले कलेक्टर्स की तारीफ भी की है। सीएम ने कोरोना के संकट में अच्छा काम करने वाले अफसरों और पूरी टीम के अनुभवों के बारे में बताया है। CM चौहान ने अधिकारियों के जनता से जुड़े रहने तथा वास्तविक स्थितियों की जानकारी के लिए नियमित रूप से क्षेत्र में भ्रमण (दौरे) की आवश्यकता बताई। उन्होंने कहा कि महाकाल महालोक के निर्माण से उज्जैन की अर्थ-व्यवस्था बदल गई है। श्योपुर में चीतों के आने के बाद जिले में पर्यटन के विकास तथा उससे रोजगार सृजन के लिए प्रभावी परियोजना बना कर उसका क्रियान्वयन करना आवश्यक है। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में इस प्रकार की पहल करने से राज्य तथा प्रदेशवासियों की बेहतरी तेज गति से होगी।

आगे सीएम शिवराज ने कहा कि हाल ही में इंदौर में हुए प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन और ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट ने प्रदेश की सकारात्मक छवि को वैश्विक स्तर पर स्थापित किया है। इंदौर में जनता को जोड़ कर की गई व्यवस्था, होम स्टे की सुविधा, छप्पन दुकान और सराफा में हुई आवभगत परिवार की भावना के विस्तार का अछ्वुत उदाहरण रहा। प्रदेश में 15 लाख 42 हजार 550 करोड़ के निवेश की इच्छा का प्रदर्शन टीम मध्यप्रदेश की कुशल कार्य-प्रणाली से ही संभव हुआ है। सीएम ने जिला कलेक्टर्स द्वारा किए जा रहे नवाचार और संवेदनशील कार्य का उल्लेख करते हुए कहा कि हमारा प्रयास निरंतर यह हो कि हम और बेहतर कैसे करें। इंदौर में जन-सुनवाई में आई दिव्यांग महिला को उपलब्ध कराई गई ट्रायसिकल, बड़वानी में कुष्ठ रोगियों के लिए की गई आवास व्यवस्था, मंडला में एडाप्ट एन आँगनवाड़ी में हुए कार्य, डिण्डौरी में जन-सेवा में सक्रियता, सीहोर में विद्यार्थियों के लिए स्मार्ट क्लास और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियों की व्यवस्था की सराहना करते हुए कहा कि कलेक्टर अपने जिलों में अपने स्तर पर नवाचार कर रहे हैं।

साथ ही सीएम चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश का वातावरण बदला है और दुनिया के देशों में भारत के प्रति सोच में भी परिवर्तन आया है। कोरोना के कठिन काल में देश ने आठ माह में दुनिया को दो वैक्सीन उपलब्ध कराईं। हाल ही में हुए प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में सूरीनाम और गुयाना के राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार मानते हुए कहा कि, भारत के सहयोग से ही हमारे देशवासियों की जीवन रक्षा संभव हुयी। रूस-यूक्रेन युद्ध में भारत सहित अन्य देशों के विद्यार्थियों को सुरक्षित निकालने में भी विश्व ने भारत के प्रभाव का अनुभव किया। हमारा देश कई क्षेत्रों में दुनिया का नेतृत्व कर रहा है। जी-20 सम्मेलन में अध्यक्षता का अवसर मिलना इसका प्रतीक है। हम अपने देश को और बेहतर कैसे बना सकते हैं, इस दिशा में हमें सकारात्मक भाव के साथ उत्साह और ऊर्जा से परिपूर्ण रहते हुए निरंतर सक्रिय रहना है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co