CM Shivraj Singh Chauhan
CM Shivraj Singh Chauhan Syed Dabeer Hussain - RE

MP के 67 साल के इतिहास में 6 बार में बनाये 25 नए जिले और कम हुए16, लंबित प्रस्ताव पारित हुए तो होंगे 56 जिले

मध्यप्रदेश के 67 साल के इतिहास में अब तक 6 बार में 25 नए जिले बनाये गए,जिनमे से 16 जिले छत्तीसगढ़ राज्य के साथ चले गये।

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के 67 साल के इतिहास में अब तक 6 बार में 25 नए जिले बनाये गए, जिनमे से 16 जिलों को छत्तीसगढ़ राज्य के साथ चले गये। इस समय मध्यप्रदेश में कुल 52 जिले हैं। अगर सब कुछ ठीक रहा और लंबित प्रस्ताव पारित हुए तो अब मध्यप्रदेश में 56 जिले होंगे।

मध्यप्रदेश में वर्तमान में 52 जिले और 10 संभाग है इसके अलावा अभी मध्यप्रदेश में 4 अन्य जिले (मैहर, नागदा, चाचौड़ा और मऊगंज) प्रस्तावित है। बता दें नागदा जिला उज्जैन से अलग होकर बनेगा, चाचौड़ा जिला गुना से अलग होकर बनेगा, और मैहर जिला सतना से अलग कर बनाया जा सकता हैं ।

1956 में मध्यप्रदेश के गठन के समय थे 43 जिले :

मध्यप्रदेश के गठन के समय जिलों की संख्या 43 थी। इसके बाद सन 1972 में 2 नए जिले बनाए गए, जिससे यह संख्या 43 से बढ़कर 45 हो गई। बता दें ये दो जिले मध्यप्रदेश की वर्तमान राजधानी भोपाल और छत्तीसगढ़ राज्य का जिला राजनांदगांव हैं।

छत्तीसगढ़ को दिए 16 जिले

सन 2000 में मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ को अलग राज्य बना दिया गया और 16 जिले छत्तीसगढ़ राज्य में विलय कर दिए गए इस प्रकार मध्यप्रदेश में जिलों कि संख्या 61 से घटकर पुनः 45 हो गई थी।

कब- कब बने नए जिले

इसके बाद सन 1998 में 16 नए जिलो का गठन किया गया जिनसे मध्यप्रदेश में कुल जिलों की संख्या 61 हो गई। जिनमें से 16 जो नए जिले बनाए थे उनमें से 7 जिले वर्तमान में मध्यप्रदेश में ही है।

सन 2003 में मध्यप्रदेश की प्रथम महिला सीएम उमा भारती के शासनकाल में पुन:3 नए जिले(अनूपपुर, बुरहानपुर, अशोकनगर) बनाए गए जिससे जिलों की संख्या एक बार फिर 48 हो गई।

2008 में 2 नए जिले बनाए गए इस समय सीएम शिवराज सिंह चौहान थे। अलीराजपुर (झाबुआ से), सिंगरोली (सीधी से) इसके बाद 16 अगस्त 2013 में एक नया जिला (आगर मालवा शाजापुर से) बनाया गया। जिसके बाद मध्यप्रदेश में जिलों की संख्या बढ़कर 51हो गई।

इसके बाद 1 अक्टूबर 2018 में एक और नया जिला (निवाड़ी) बनाया गया। यह जिला टीकमगढ़ से बनाया गया था। इसके बाद मध्यप्रदेश में कुल जिलों की संख्या 51से बढ़कर 52 हो गई थी।

इसके उपरान्त सीएम कमलनाथ द्वारा 18 मार्च 2020 को 3 नए जिलों को प्रस्तावित किया गया। सतना से मैहर, उज्जैन से नागदा और गुना से चाचौड़ा। हालांकि अभी इन जिलों को बनाने का प्रस्ताव लंबित है।

मुख्यमंत्री शिवराज ने की नए जिले की घोषणा :

अब शनिवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मऊगंज को भी नया जिला बनाने की घोषणा की है उन्होंने 15 अगस्त 2023 को जिला मुख्यालय पर झंडा-वंदन करने का भी दावा किया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co