इंदौर कलेक्टर आशीष सिंह ने काम के बदले पैसे माँगने वाली क्लर्क को किया बर्खास्त

Indore Collector Ashish Singh : सोशल मीडिया पर पिछले दिनों रेखा पाटिल का वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियो में वे आवेदक से अनुचित पैसों की डिमांड कर रही थीं।
इंदौर कलेक्टर आशीष सिंह
इंदौर कलेक्टर आशीष सिंहRaj Express
Submitted By:
gurjeet kaur

हाइलाइट्स :

  • भ्रष्टाचार पर जिला प्रशासन सख्त।

  • क्लर्क की सभी सेवाएं समाप्त।

  • इंदौर कलेक्टर ने जारी किये आदेश।

इंदौर। भ्रष्टाचार के खिलाफ जिला प्रशासन ने कड़ा रुख अपनाया है। इंदौर कलेक्टर आशीष सिंह ने काम के बदले पैसे माँगने वाली क्लर्क रेखा पाटिल को निलंबित कर दिया है। पिछले दिनों रेखा पाटिल का वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वो कार्य के बदले आवेदक से पैसे की डिमांड कर रही थीं।

क्लर्क रेखा पाटिल तहसील जूनी इन्दौर में कम्प्यूटर ऑपरेटर के रूप में 27 अप्रैल 2013 से अस्थाई कर्मचारी के रूप में कार्य कर रही हैं। अपर कलेक्टर एवं उपाध्यक्ष समाधान समिति कलेक्ट्रेट इन्दौर के आदेश पर वे कम्प्यूटर ऑपरेटर के रूप में कार्य कर रहीं थी। सोशल मीडिया पर पिछले दिनों रेखा पाटिल का वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियो में वे आवेदक से अनुचित पैसों की डिमांड कर रही थीं।

उल्लेखनीय है कि यह कृत्य शासन एवं प्रशासन के नैतिक दायित्वों के प्रतिकूल है। जिसको दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर आशीष सिंह द्वारा तहसील जूनी इंदौर में कार्यरत रेखा पाटिल की सेवाऐं तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी गई है।

भोपाल जिले का ई-रूपी पायलट प्रोजेक्ट के तहत चयन :

खाद्य एवं पोषण सुरक्षा दलहन योजनान्तर्गत किसानों को अनुदान की राशि सामग्री क्रय करने से पूर्व ई - रूपी वाउचर के रूप में प्राप्त हो सके, इसके लिए प्रदेश शासन द्वारा ई रूपी पायलट प्रोजेक्ट अन्तर्गत भोपाल जिले के साथ ही आगर - मालवा का चयन किया गया है। इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत फसल प्रदर्शन के बीज घटक को छोड़कर शेष अन्य आदान सामग्री हेतु केश डीबीटी है। इसमें कृषकों को स्वयं सामग्री क्रय कर अनुदान हेतु बिल उप संचालक कार्यालय में जमा कर अनुदान प्राप्त करना होता है परन्तु इसमें समय अधिक लगने एवं अनुदान की राशि कम होने से अधिकांश किसानों द्वारा इसका उपयोग नहीं किया जाता है इस हेतु किसान को अनुदान की राशि सामग्री कय करने से पूर्व ई-रूपी वाउचर के रूप में प्राप्त हो सके अतः ई-रूपी पायलट प्रोजेक्ट लागु किया गया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co