महापौर केसरी कुश्ती प्रतियोगिता
महापौर केसरी कुश्ती प्रतियोगिताRaj Express

Indore : चेले की जीत पर गुरु इतने खुश हुए कि उन्हें अटैक आ गया

इंदौर, मध्यप्रदेश : अस्पताल ले जाया गया, लेकिन नहीं बचा सके। चेले रेहान ने भी गुरु की मौत के बाद फाइनल कुश्ती छोड़ी। देवास के राज बने ओपन वर्ग के विजेता।

इंदौर, मध्यप्रदेश। 14 साल बाद हुए महापौर केसरी कुश्ती प्रतियोगिता में एक दुखद हादसा हो गया। ओपन वर्ग के फाइनल के पहले एक कुश्ती कोच की हार्ट अटैक से मौत हो गई, जिसके बाद चेले ने भी फाइनल खेलने से इंकार कर दिया, जिसके बाद ओपन वर्ग में महापौर केसरी का खिताब देवास के राज सांगते ने हासिल किया।

छोटा नेहरू स्टेडियम में हुए दंगल के फाइनल मुकाबले में राज का मुकाबला इंदौर के रेहान खान से होना था, लेकिन रेहान ने अपने गुरु अमरदीप सोनी की मौत से दुखी होकर कुश्ती नहीं लडऩे का फैसला लिया। सेमीफाइनल मुकाबले में रेहान ने जब अजीम खान को हराया तो उनके गुरु अमरदीप की खुशी का ठिकाना नहीं रहा, जिससे उन्हें हार्टअटैक आ गया। उन्हें तुरंत ही एमवाय अस्पताल ले गए जहां उनका निधन हो गया।

अंतिम मुकाबले रविवार को हुए। मुख्य कुश्ती ओपन वर्ग में मप्र महापौर केसरी की ही होना थी जिसमें रेहान का मुकाबला राज से होना था। असल में मप्र महापौर केसरी के विजेता के रूप में रोहित पटेल को देखा जा रहा था, लेकिन सेमीफाइनल में रोहित को अजीम खान ने पराजित कर दिया था। यही कारण रहा कि अजीम खान और रेहान की कुश्ती पर सभी की नजर थी। रेहान ने जैसे ही अजीम पर जीत दर्ज की रेहान के गुरु अमरदीप पिता सत्नारायण, ग्वालियर खुशी से उछल पड़े। कुछ ही देर में वे ताली बजाते-बजाते जमीन पर गिरकर बेसुध हो गए। उनके इस तरह गिरने से हलचल मच गई। बस इसी दौरान उन्हें हार्ट अटैक आ गया। उन्हें तुरंत ही अस्पताल ले जाया गया। महापौर पुष्यमित्र भार्गव व सामान्य प्रशासन समिति के अध्यक्ष नंदकिशोर पहाड़िया ने कुछ समय के लिए कुश्ती रूकवा भी दी, ताकि अमरदीप सोनी को एंबुलेंस तक ले जाने के लिए लोग राह दे दे।

ग्वालियर के रहने वाले अमरदीप ने कुश्ती में कई पदक जीते हैं और वे रेहान के कोच थे। तीन चार दिन पहले ही वे ग्वालियर से इंदौर आए थे। उनके साथियों ने बताया कि अमरदीप का शव ग्वालियर लेकर जाएंगे वहीं उनका अंतिम संस्कार होगा।

इन्हें भी मिली जीत :

आयुष ठाकुर, गौतम ठाकुर, सूरज चौहान, युवराज खींची, सूरज प्रजापत, विनय यादव, हरीश सिसोदिया, सुशांत यादव, यशपाल ने जीत हासिल की। महिलाओं में महापौर केसरी का खिताब हंसाबेन ने जीता। फाइनल में हंसाबेन ने महू की कशिश वर्मा को पराजित किया। पुरस्कार वितरण मप्र कुश्ती संघ के अध्यक्ष मोहन यादव, सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी, महापौर पुष्यमित्र भार्गव, सभापति मुन्नालाल यादव, गौरव रणदिवे, नंदकिशोर पहाडिय़ा, राजेंद्र राठौर, निरंजनसिंह चौहान, भारतसिंह रघुवंशी, अंकित यादव आदि उपस्थित थे। आयोजन समिति के सदस्यों नरेश वर्मा, विजय मिश्रा, श्रीदयाल यादव, नंदकिशोर यादव, जितेंद्र वर्मा, गोलू कश्यप, नीलिमा बौरासी, खांडेराव नामदेव, कुलदीप यादव, सौमेंद्र यादव थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co