सरकार सच्चाई सामने लाकर दोषियों पर कार्यवाही के बजाएँ हरदा में हुए खौफनाक मंजर में लापरवाही बरत रही: पटवारी

मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा- हरदा में खौफनाक मंजर के बाद शासन-प्रशासन के इस रवैये से मन आहत है। उनकी यह उदासीनता शर्मनाक है!
जीतू पटवारी
जीतू पटवारीSocial Media
Submitted By:
Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • जीतू पटवारी ने पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट के कारण घायल हुए पीड़ितों से मुलाकात की

  • इस मामले में जीतू पटवारी ने अनेक सवाल भी उठाए

#HardaBlast: आज मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट के कारण घायल हुए पीड़ितों से मुलाकात की। उन्होंने इस मामले में अनेक सवाल भी उठाए और कहा- हरदा में खौफनाक मंजर के बाद शासन-प्रशासन के इस रवैये से मन आहत है। उनकी यह उदासीनता शर्मनाक है!

बता दें, जीतू पटवारी ने पटवारी ने अपने साथी पार्टी नेताओं के साथ अस्पताल में भर्ती घायलों और उनके परिजनों से स्वास्थ्य के बारे में जानकारी हासिल की। पटवारी इसके बाद घटनास्थल भी पहुंचे और घटना के संबंध में वस्तुस्थिति जानने की कोशिश की।

पटवारी ने सोशल मीडिया एक्स पर अपनी पोस्ट में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को संबोधित करते हुए कहा- वे ‘‘पब्लिक डोमेन’’ में इस मामले को लेकर आई गड़बड़ियों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जतायी कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होगी और पूरी ईमानदारी से इन गड़बड़ियों को भी शामिल किया जाएगा। उन्होंने पटाखा निर्माण फैक्ट्री परिसर के नक्शे और निर्धारित मापदंडों को लेकर अनेक सवाल उठाए हैं।

पटवारी ने कहा कि कांग्रेस की जांच टीम ने पाया है कि फैक्ट्री परिसर में कोई भी नियम का पालन नहीं किया गया। जीतू पटवारी ने कहा कि, हरदा हादसे को लेकर शासन प्रशासन के आँकड़ों और ब्लॉस्ट का शिकार हुए लोगों के परिजनों की जानकारी में ज़मीन आसमान का अंतर है लेकिन सरकार सच्चाई सामने लाकर दोषियों पर कार्यवाही के बजाएँ इस खौफनाक मंजर में भी लापरवाही बरत रही है।

मुख्यमंत्री मोहन यादव जी, यदि "निष्पक्ष जांच" के जरिए सरकार ईमानदारी से कुछ सुनना और समझना चाहती है, तो वास्तविक हालातों को जानिए। घायल लोगों के बयान को जांच की सर्वोच्च प्राथमिकता में शामिल कर कार्यवाही कीजिए सिर्फ़ लीपापोती नहीं!

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co