कमलनाथ का बयान
कमलनाथ का बयानPriyanka Yadav-RE

हम अतिथि शिक्षकों का भविष्य और आर्थिक भविष्य दोनों सुनिश्चित करेंगे: कमलनाथ

भोपाल, मध्यप्रदेश। कमलनाथ ने बयान देते हुए कहा कि, मध्य प्रदेश के अतिथि शिक्षक प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था की रीढ़ हैं।

हाइलाइट्स :

  • कमलनाथ का फिर सामने आया बड़ा बयान

  • कमलनाथ ने कहा- अतिथि शिक्षक प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था की रीढ़ हैं

  • अतिथि शिक्षक लंबे समय से कुछ न्यायोचित मांगें कर रहे हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का फिर बड़ा बयान सामने आया है। कमलनाथ ने बयान देते हुए कहा कि, मध्य प्रदेश के अतिथि शिक्षक प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था की रीढ़ हैं। अतिथि शिक्षक लंबे समय से कुछ न्यायोचित मांगें कर रहे हैं।

कांग्रेस पार्टी की सरकार अतिथि शिक्षक का पूरा सम्मान करेगी: कमलनाथ

आगे कमलनाथ ने कहा कि, हम उनकी परेशानी को समझते हैं और कांग्रेस पार्टी की सरकार उनका पूरा सम्मान करेगी। हम अतिथि शिक्षकों का भविष्य और आर्थिक भविष्य दोनों सुनिश्चित करेंगे। उनकी बारहमासी सेवा एवं मानदेय सहित अन्य मांगों पर उनके साथ न्याय किया जाएगा।

बता दें, अतिथि शिक्षकों लम्बे समय से नियमितीकरण की मांग कर रहे। ऐसे में अतिथि शिक्षकों ने बताया था वे लंबे समय से स्कूलों में पढ़ाई की व्यवस्था संभाल रहे हैं, लेकिन सरकार ने उनके हित में कोई ठोस नीति नहीं बनाई। उन्हें मानदेय भी काफी कम मिलता है। अब उनका भविष्य अंधकार में है। उन्होंने मांगों की सुनवाई के लिए अतिथि शिक्षकों की महापंचायत बुलाने की भी मांग की है।

जिसके बाद आज अतिथि शिक्षकों की महापंचायत शनिवार को लाला परेड ग्राउंड में आयोजित की गई। इस महापंचायत में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षकों के लिए कई बड़ी घोषणा की। अतिथि शिक्षकों का मानदेय बढ़ाया गया है। साथ शिक्षक भर्ती में अब अतिथि शिक्षकों को 50 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। सीएम शिवराज ने भविष्य में शिक्षकों के नियमितीकरण के लिए नई योजना बनाये जाने की भी घोषणा की है।

कमलनाथ का बयान
अतिथि शिक्षकों का आरक्षण 50 प्रतिशत, मानदेय में वृद्धि, नियमितिकरण के लिए योजना महापंचयत में CM ने की घोषणा

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co