प्रवासी भारतीय सम्मलेन कमलनाथ का बयान,
प्रवासी भारतीय सम्मलेन कमलनाथ का बयान,Social Media

प्रवासी भारतीय सम्मलेन: कमलनाथ का बयान, 'समिट तो एक इवेंट होता है निवेश तब आएगा जब निवेशकों को भरोसा होगा'

भोपाल, मध्यप्रदेश: प्रदेश के पूर्व सीएम आज पंचायती राज प्रतिनिधि सम्मेलन में प्रवासी भारतीय सम्मलेन पर दिया बड़ा बयान।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज कांग्रेस का पंचायत प्रतिनिधियों का राज्यस्तरीय सम्मेलन आयोजित हुआ है। इस साल होने वाले विधानसभा सभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां अपना पूरा जोर लगा रही है। इस कड़ी में कांग्रेस भी पीछे नहीं है। आज के इस सम्मेलन में पीसीसी चीफ कमलनाथ पंचायत प्रतिनिधियों से सीधे रुबरु हुए। साथ ही भारत यात्रा जोड़ो के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान पर चर्चा करते हुए स्वतंत्रता आंदोलन से राष्ट्र निर्माण में प्रवासी भारतीयों की महत्वपूर्ण भूमिका को बताया साथ ही सभी को प्रवासी भारतीयों का अभिनंदन किया।

रवींद्र भवन में हुआ संपन्न :

यह राज्य स्तरीय सम्मेलन आज 9 जनवरी को रवींद्र भवन में संपन्न हुआ, जहां पूरे मध्यप्रदेश से कांग्रेस के प्रतिनिधि समेत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ शामिल हुए। इस पंचायती राज प्रतिनिधि सम्मेलन की अध्यक्षता मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम ने की। बताया जा रहा है कि यह सम्मलेन में बड़े मुद्दों से लेकर छोटे मुद्दों पर चर्चा की जाएगी तथा चुनावी माहौल के लिए अनुकूल योजनाए आयोजित की जाएगी।

एक लाख पदों की भर्ती की शिवराजजी घोषणा को कैसे पूरा करेगा ?

पंचायत प्रतिनिधियों का राज्यस्तरीय सम्मेलन का आयोजन भोपाल के रविंद्र भवन में किया जा रहा है, जहाँ कमलनाथ ने अपने कांग्रेस साथियों को सम्बोधित करते हुए भाजपा पर निशाना साधा है।पूर्व सीएम ने शिवराज सरकार से सीधे शब्दों में तीखे प्रश्न पूछते हुए अपने बयान में कहा है कि, "राज्य में निवेश और निवेशकों का मैं समर्थन करता हूं लेकिन समिट करने से विश्वास नहीं बनता। समिट तो एक इवेंट होता है। निवेश तब आएगा जब निवेशकों को भरोसा होगा"

आगे कमलनाथ ने कहा कि, "क्या व्यापम जैसी भर्ती होगी?" बड़ा प्रश्न है ? कमलनाथ ने चुनावी माहौल को और गरम करते हुए सबसे सेंसिटिव मुद्दे से प्रहार करते हुए कहा "युवाओं की सरकारी भर्ती करने वाले मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के एक चौथाई पद भाजपा सरकार ने खाली पटक रखे हैं। भर्ती करने वाला आयोग खुद ही परीक्षा नियंत्रक सहित स्टाफ की समस्या से जूझ रहा है। खुद ही पदों की भर्ती के संकट में खड़ा आयोग एक लाख पदों की भर्ती की शिवराजजी घोषणा को किस तरह और कैसे पूरा करेगा "

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co