कोटवार संघ का धरना जारी
कोटवार संघ का धरना जारीRE

कोटवारों को नियमित चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी घोषित करने को लेकर कोटवार संघ का धरना जारी

शासन प्रशासन द्वारा संघ की मांगों का अभी तक कोई निराकरण नहीं किया गया है , यदि समय रहते कोटवार संघ की मांगों को पूरा नहीं किया तो संगठन उग्र आंदोलन के लिए विवश होंगा।

नर्मदापुरम- कोटवार संघ द्वारा मध्य प्रदेश के सभी भूमिहीन तथा सेवा भूमि धारी कोटवारों को नियमित चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी घोषित तथा सेवा भूमि पर मालिकाना हक प्रदान करने की मांग को लेकर 10 मार्च से पीपल चौक पर धरना प्रदर्शन कर आंदोलन कर रहे हैं। मध्य प्रदेश कोटवार संघ के जिला अध्यक्ष पंकज मेंहरा ने जानकारी देते हुए बताया कि हमने प्रमुख मांगों को लेकर जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा है। लेकिन शासन प्रशासन द्वारा संघ की मांगों का अभी तक कोई निराकरण नहीं किया गया है । यदि समय रहते कोटवार संघ की मांगों को पूरा नहीं किया तो संगठन उग्र आंदोलन के लिए विवश होंगा।

मध्य प्रदेश कोटवार संघ के जिला अध्यक्ष पंकज मेहरा ने बताया कि कोटवारों का शोषण हो रहा है, जिसमें शासन-प्रशासन की सबसे मजबूत कड़ी आज अपने हक और अधिकारों के लिए सड़क पर बैठी है । यदि हमारी मांगे नहीं मानी गई तो आगामी 21 फरवरी को प्रदेश स्तरीय चरणबद्ध आंदोलन भोपाल में शुरू किया जाएगा । जिसमें प्रदेश के सभी 38000 कोटवारों द्वारा धरना प्रदर्शन कर आमरण अनशन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोटवारों को जो मानदेय मिल रहा है वो उनके जीवन यापन के लिए पर्याप्त नही है । साथ ही कोटवारों की जमीन का मालिकाना हक और सरकारी कर्मचारी के रूप में मान्यता इनका अधिकार है । शहरी क्षेत्र में कोटवार का पद समाप्त ना किया जाए एवं ग्रामीण क्षेत्र में भी एक क्रम में एक से अधिक कोटवार पदों की स्थिति में उक्त कोटवार पद समाप्त ना किया जाता है पूर्व की तरह यथावत रखा जावे और वेतन बृद्धि आदि प्रमुख मांग हैं। मालूम हो कि 10 मार्च से पीपल चौक पर कोटवार संघ का धरना प्रदर्शन निरंतर जारी है । धरने में कोटवार संघ जिलाध्यक्ष पंकज मेहरा ने कोटवार संघ की प्रमुख मांगो को लेकर एक ज्ञापन सौंपा है । इस अवसर कोटवार संघ जिलाध्यक्ष पंकज मेहरा, धर्मेंद्र गुजरिया, नारायण मेहरा, सुनील मेहरा, प्रमोद मेहरा, ख्याली प्रसाद मेहरा, आत्माराम मेहरा, बबलू मेहरा, सुनील मेहरा सहित कोटवार संघ के जिलेभर से आए साथी उपस्थित रहे 

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co