पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में आएंगे 26 नए उच्च नस्ल के डॉग पप्पी
पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में आएंगे 26 नए उच्च नस्ल के डॉग पप्पीसांकेतिक चित्र

Madhya Pradesh : पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में आएंगे 26 नए उच्च नस्ल के डॉग पप्पी

भोपाल, मध्यप्रदेश : मध्यप्रदेश पुलिस की 23 वीं वाहिनी विसबल पुलिस ट्रेनिंग सेंटर (डॉग) में जल्द ही उच्च नस्ल के 26 श्वान पप्पी आएंगे। इन 26 पप्पी को मप्र पुलिस फरवरी माह तक खरीदेगी।

हाइलाइट्स :

  • 09 के प्रशिक्षण के बाद विभिन्न यूनिट में किया जाएगा पदस्थ।

  • वर्तमान में पुलिस के पास 136 प्रशिक्षित डॉग।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश पुलिस की 23 वीं वाहिनी विसबल पुलिस ट्रेनिंग सेंटर (डॉग) में जल्द ही उच्च नस्ल के 26 श्वान पप्पी आएंगे। इन 26 पप्पी को मप्र पुलिस फरवरी माह तक खरीदेगी। इन्हें प्रशिक्षण देने के बाद पुलिस की विभिन्न युनिट में पदस्थ किया जाएगा। कई महत्वपूर्ण यूनिट के पास इस समय डॉग की कमी है। इस कमी को दूर करने के लिए नए डॉग पप्पी को खरीदकर उन्हें प्रशक्षित किया जाएगा। मप्र के पास विभिन्न जिले और युनिट में कुल 136 प्रशिक्षित डॉग पदस्थ है।

23 वीं वाहिनी विसबल पीटीएस (डॉग) में इस साल जर्मन शेफर्ड, डॉबरमैन, लेब्राडोर और बेल्जीम मेलोनाइस नस्ल के 04 से 05 माह के श्वान पप्पी को प्रशिक्षित किया जाएगा, हालांकि पीटीएस (डॉग) में देशी-विदेशी नसल के श्वान पप्पी का प्रशिक्षण सत्र चल संचालित किया जा रहा है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार एक पप्पी को 09 माह का प्रशिक्षण देने पर लगभग दो लाख रुपए तक खर्च होता है। नस्ल के अनुसार इनको डाइट दी जाती है, वहीं अन्य कई तरह की सुविधाएं इनको देना होती है।

एक पप्पी की कीमत लगभग एक लाख रुपए :

उच्च नस्ल के डॉग की जानकारी रखने वाले जानकारों के अनुसार जर्मन शेफर्ड, डॉबरमैन, लेब्राडोर और बेल्जीम मेलोनाइस नस्ल के एक पप्पी की कीमत लगभग एक लाख रुपए तक होती है। अगर 26 पप्पी की कुल कीमत का आंकलन किया जाए तो लगभग 26 लाख रुपए होगी। पीटीएस (डॉग) के पास इस तरह के उच्च नस्ल के डॉग की संख्या कम ही है। साल 2019 में भी जर्मन शेफर्ड, डॉबरमैन नस्ल के 26 डॉग पप्पी को हैदराबाद से खरीदा गया था।

चार तरह के डॉग किए जाते है तैयार :

पीटीएस (डॉग) चार तरह के कार्य के लिए प्रशिक्षित कर डॉग को तैयार करती है, जिसमें ट्रेकर, स्नाइफर, नारकोटिक्स और फारेस्टी शामिल है।

  • ट्रेकर : चोरी, डैकेती, हत्या जैसी वारदात में उपयोगी होता है।

  • स्नाइफर : बम, विस्फोटक सामग्री की खोज करने में उपयोगी होता है।

  • नारकोटिक्स : मादक पदार्थ की खोज करने में उपयोगी होता है।

  • फारेस्टी : जंगली जानवरों के अवशेष और शिकारियों का पता लगाने का काम करता है।

किस नस्ल के कितने डॉग पप्पी की होगी खरीदी :

  • जर्मन शेफर्ड - 11

  • डॉबरमेन - 10

  • लेब्राडोर - 02

  • बेल्जीम मेलोनाइस - 03

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co