मध्यप्रदेश अब होगा 53 जिलों वाला राज्य
मध्यप्रदेश अब होगा 53 जिलों वाला राज्यSocial Media

मध्यप्रदेश अब होगा 53 जिलों वाला राज्य, मऊगंज को जिला बनाने की प्रक्रिया शुरू

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने आज रीवा के मऊगंज में आयोजित एक कार्यक्रम में बड़ी घोषणा की है। उन्होंने घोषणा करते हुए बताया कि, मऊगंज को अलग जिला बनाया जाएगा।

रीवा/ मऊगंज, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने आज रीवा के मऊगंज में आयोजित एक कार्यक्रम में बड़ी घोषणा की है। उन्होंने घोषणा करते हुए बताया कि, मऊगंज को अलग जिला बनाया जाएगा। उन्होंने मंच से कहा कि, मऊगंज , नईगढ़ी, हनुमना और देवतालाब को मिलाकर मऊगंज नया जिला (Mauganj will be new district of MP) बनाया जाएगा।

Sambal Yojana 2.0: सीएम ने सम्बल योजना के अंतर्गत श्रमिक परिवारों को सहायता राशि वितरण की:

बता दें कि, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रीवा के मऊगंज में आयोजित कार्यक्रम के दौरान दिव्यांग दृष्टिबाधित बेटा-बेटियों से भेंट की और उनके प्रशिक्षण के लिए शासन द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे उपकरणों का अवलोकन किया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां ‘संबल योजना 2.0’ के अंतर्गत 27,310 श्रमिक परिवारों को सिंगल क्लिक के माध्यम से 605/- करोड़ की अनुग्रह सहायता राशि का वितरण किया, सीएम शिवराज ने यहाँ 606 करोड़ रूपये से अधिक की राशि के विकासकार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन भी किया।

शिवराज सिंह चौहान ने की यह घोषणा:

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर कहा कि, "आज से मऊगंज को जिला बनाने की प्रक्रिया आरंभ हो जायेगी और 15 अगस्त को इस जिला मुख्यालय पर झंडा फहराया जायेगा। आप सभी को बहुत-बहुत बधाई, शुभकामनाएं। नईगढ़ी, मऊगंज, हनुमना तथा देव तालाब को मिलाकर मऊगंज को मध्यप्रदेश का जिला बनाया जाएगा।"

शिवराज ने मंच से कागज लहराते हुए कहा कि, "मैं नक्शा भी लेकर आया हूँ, पूरी तैयारी करके आया हूँ जैसे परीक्षा से पहले तयारी करते हैं वैसे ही पूरी तैयारी करके आया हूँ, आज से इस नए जिले की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी और 15 अगस्त को यहाँ झंडा फहराया जायेगा।"

मुझे खुशी है कि, मध्यप्रदेश की धरती पर 44 लाख 30 हजार लाड़ली लक्ष्मी बेटियां हैं: मुख्यमंत्री

उन्होंने इस दौरान कहा कि, "हमने गरीबों के कल्याण के लिए संबल योजना बनाई थी। मेरे वह भाई-बहन जिनके पास धन और दौलत के भंडार नहीं है उनकी जिंदगी में अगर कोई कष्ट या परेशानी हो तो उनको आर्थिक सहायता मिल जाएगी। हमने संकल्प लिया था कि मध्यप्रदेश की धरती पर बेटी को बोझ नहीं रहने देंगे। उसे वरदान बनाएंगे। आज मुझे खुशी है कि, मध्यप्रदेश की धरती पर 44 लाख 30 हजार लाड़ली लक्ष्मी बेटियां हैं। उनकी पढ़ाई, लिखाई और कुशलक्षेम की हम व्यवस्था कर रहे हैं।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co