कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की मैराथन बैठक
कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की मैराथन बैठक RE-Bhopal

दिल्ली में कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की मैराथन बैठक, सिटिंग एमएलए के साथ हारने वाली सीटों पर हुई चर्चा

MP Assembly Election 2023: कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में तय किया गया कि कांग्रेस प्रदेश में नये चेहरों पर दांव लगाएगी। युवाओं और महिलाओं को आगे करेगी।

हाइलाइट्स :

  • युवाओं पर दांव खेलगी कांग्रेस, कमलनाथ बोले- प्रत्याशी कोई हो जिताने की जिम्मेदारी होगी सामुहिक

  • 25 सीट पर आये सिंगल नाम, 20 से अधिक विधायकों की सर्वे रिपोर्ट में स्थिति खराब

  • 5 हजार से कम वोटो से हारने वालों के नाम पर होगा विचार

  • बुधवार को फिर होगा टिकट दावेदारों के नामों पर मंथन

Congress Screening Committee Meeting: भोपाल, मध्यप्रदेश । विधानसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की मैराथन बैठक मंगलवार को दिल्ली में हुई। बैठक में राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल, स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष भंवर जितेन्द्र सिंह, प्रदेश प्रभारी रणदीप सुरजेवाला, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, सुरेश पचौरी, अजय सिंह, अरूण यादव सहित अन्य नेता मौजूद रहे। बैठक में वर्तमान विधायकों और लगातार हारने वाली 100 सीटों पर प्रारंभिक चर्चा की गई। साथ ही तय किया गया कि कांग्रेस प्रदेश में नये चेहरों पर दांव लगाएगी। युवाओं और महिलाओं को आगे करेगी। बैठक में कमलनाथ ने साफ कर दिया कि टिकट किसी का भी हो उसे जिताने की जिम्मेदारी सामूहिक होगी।

बनाई गई तीन सूची, आज होगी चर्चा

बताया जा रहा है कि बैठक में लगातार हारने वाली 66 सीटों को लेकर चर्चा की गई। इन सीटों पर कॉमन नामों की सूची बनाई गई है। इसके लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के द्वारा कराये गये सर्वे, सुनील कानुगोलू और एआईसीसी के चारों पर्यवेक्षकों की सर्वे रिपोर्ट को आधार बनाया गया। जिन सीटों पर कॉमन नाम सामने आये हैं, उन्हें अलग कर लिया गया है। जिन सीटों पर दो या दो से अधिक दावेदारों के नाम आ रहे हैं, उनकी सूची अलग बनाई जा रही है। इसके अलावा वर्तमान विधायकों की अलग सूची तैयार की गई है। इन पर बुधवार को कमेटी चर्चा करेगी।

जातिगत और स्थानीय समीकरण फिट तभी मिलेगा टिकट

कांग्रेस विधानसभा चुनाव के साथ ही लोकसभा चुनाव को भी टारगेट करके चुनाव तैयारी कर रही है। इसकी झलक स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में देखने को मिली। बैठक में साफ किया गया कि 2023 में हो रहे विधानसभा चुनावों का असर 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव पर पड़ेगा। ऐसे में टिकट वितरण में जातिगत और स्थानीय समीकरण को ध्यान में रखा जाए। बैठक में तय किया गया ऐसे में अगर कोई दावेदार सर्वे में है, लेकिन जातिगत समीकरण फिट नहीं बैठ रहे हैं तो ऐसे दावेदारों को संगठन में एडजस्ट किया जाएगा।

22 सितम्बर के बाद आएगी सूची

कांग्रेस प्रत्याशियों की सूची जारी करने की जल्दबाजी में नहीं है। कारण है कि संसद सत्र शुरू होने वाला है। इसमें महिला आरक्षण बिल पर विचार हो सकता है। ऐसे में कांग्रेस सत्र के बाद ही कोई निर्णय लेगी। कमलनाथ भी यह साफ कर चुके हैं कि जब हमे उचित लगेगा तब हम टिकट जारी सूची करेंगे। सूत्रों की माने तो 22 सितम्बर के बाद ही कांग्रेस की पहली सूची जारी होगी।

सिंगल नाम की बनाई सूची, 20 से अधिक विधायकों की रिपोर्ट खराब

पार्टी सूत्रों के अनुसार बैठक में लगातार हारने वाली सीटों में 25 में सिंगल नाम आये हैं। कुछ सिंगल नामों को होल्ड भी किया गया है। जिन्हें होल्ड किया गया है, उनके नाम संगठन की तरफ से नहीं भेजे गये हैं। इन पर बुधवार को फिर से चर्चा होगी। इधर, वर्तमान 20 विधायक ऐसे हैं, जिनकी टिकट कट सकते हैं। इन विधायकों की सर्वे रिपोर्ट में स्थिति खराब बताई गई है। बताया जा रहा है कि 2018 के विधानसभा चुनाव में 5 हजार से कम वोटो से हारे प्रत्याशियों के नामों पर भी विचार किया जाएगा। इस पर बैठक में सहमति बनी है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co