शराब की दुकाने होंगी स्थानांतरित
शराब की दुकाने होंगी स्थानांतरितसांकेतिक चित्र

विधायक बिरला ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों की शराब दुकान को स्थांतरण करने का लिया फैसला

जिन ग्रामों और नगरों में शराब की दुकानों के कारण नागरिकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, उन शराब दुकानों को अन्य स्थान पर अब स्थानांतरित करने की मंशा जाहिर की है।

बड़वाह, मध्यप्रदेश। भाजपा सरकार ने सभी दूर शराब दुकान पर संचालित अहाते बंद करने का निर्णय लिया है। उसी के मद्देनजर क्षेत्रीय विधायक सचिन बिरला ने भी अब बड़वाह विधानसभा क्षेत्र के जिन ग्रामों और नगरों में शराब की दुकानों के कारण नागरिकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, उन शराब दुकानों को अन्य स्थान पर अब स्थानांतरित करने की मंशा जाहिर की है। उक्त जानकारी विधायक सचिन बिरला दी। विधायक श्री बिरला ने कहा कि इसके अलावा सनावद और बड़वाह नगरों से तीर्थ नगरी ओंकारेश्वर को जोड़ने वाले मार्गों पर मौजूद शराब दुकानों को भी अब हटाया जाएगा।नागरिकों की शिकायत पर बड़वाह, सनावद एवं बेड़िया क्षेत्र की करीब 14 शराब दुकानों को हटाने के लिए चिन्हित कर लिया गया है। इन शराब दुकानों से न केवल सामान्य जनजीवन प्रभावित हो रहा है अपितु नागरिकों की धार्मिक आस्था भी आहत हो रही है। इसलिए क्षेत्र की इन 14 शराब दुकानों को हटाने के लिए जिला कलेक्टर और आबकारी विभाग को एक पत्र भी प्रेषित किया गया है। शराब दुकानों से पीड़ित नागरिक शराब दुकानों को आवासीय बस्तियों से दूर करने की मुहिम भी चला रहे हैं। इसलिए जनभावना का सम्मान करते हुए इन शराब दुकानों को हटाया जाएगा। विधायक ने कहा कि दुकान हटाने के लिए चिन्हित शराब दुकानें मंदिरों, आंगनवाड़ियों, स्कूलों, यात्री प्रतीक्षालयों, नर्मदा परिक्रमापथ, पंचायत भवनों और अस्पतालों के आसपास संचालित हो रही हैं। जिसको देखते हुए इन शराब दुकानों को व्यापक जनहित में हटाया जाना अतिआवश्यक है।

ग्रामीण क्षेत्रों में भी शराब दुकानों करेंगे स्थांतरण :

विधायक सचिन बिरला ने कहा कि बड़वाह क्षेत्र के ग्राम बड़ेल में संचालित शराब दुकान, नर्मदा परिक्रमा मार्ग पर स्थित अन्नक्षेत्र, हनुमान-शिव मंदिर, बस स्टैंड, यात्री प्रतीक्षालय के समीप स्थित है और इस शराब दुकान से डेढ़ सौ फीट की दूरी पर ही निजी स्कूल, सरकारी स्कूल, बच्चों की आंगनवाड़ी एवं सोसायटी है। जबकि ग्रामवासियों के अनुसार बड़ेल ग्राम के मुख्य चौराहे पर स्थित शराब दुकान के कारण नवरात्रि और गणगौर पर्व के आयोजन में बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है और धार्मिक आस्था को भी ठेस पहुंचती है।इसलिए इस शराब दुकान को हटाना अत्यंत आवश्यक है।वही ग्रामवासियों की मांग पर इन शराब दुकान को हटाया जाएगा। इसी प्रकार सनावद क्षेत्र में ग्राम बड़ूद की शराब दुकान भी निर्माणाधीन मंदिर, स्कूल व अस्पताल के समीप स्थित है। बड़ूद के निवासी और महिलाएं इस शराब दुकान को हटाने की पुरजोर मुहिम चला रहे हैं।जिसे जल्द ही हटाया जाएगा।

ग्राम बेड़ियां क्षेत्र के अंतर्गत ग्रामों में भी हटेगी शराब दुकान :

बेड़िया क्षेत्र के ग्राम मोगावां की राहड़कोट मार्ग पर स्थित शराब दुकान हनुमान मंदिर, अस्पताल और कब्रिस्तान से लगभग डेढ़ सौ फीट की दूरी पर है। इसलिए ग्रामवासियों की मांग पर इस शराब दुकान को भी हटाया जाएगा।जबकि सनावद नगर के खरगोन रोड पर घनी आवासीय बस्ती टवड़ीपुरा स्थित शराब दुकान से मात्र पचास फीट की दूरी पर निजी स्कूल, सौ फीट की दूरी पर सरकारी स्कूल और मंदिर मौजूद हैं। इसी प्रकार सनावद में ही इंदौर-इच्छापुर हाइवे पर वाल्मीकि मंदिर के ठीक पास शराब दुकान को भी हटाने की मांग नागरिक कर रहे हैं। विधायक ने कहा कि सनावद नगरवासियों की मांग पर इन दोनों शराब दुकानों को भी अन्य स्थान पर स्थानांतरण किया जाएगा।

हाईवे और व्यस्तम मार्ग की भी हटाएंगे शराब दुकान :

विधायक ने कहा कि बड़वाह नगर में इंदौर-इच्छापुर हाइवे स्थित एलआईसी ऑफिस के सामने और व्यस्तम मार्ग मनभावन होटल के सामने स्थित दोनों ही शराब दुकानों को जनहित में हटाया जाएगा। इन शराब दुकानों के नजदीक ही लगभग पचास फीट की दूरी पर निजी और शासकीय अस्पताल, आंगनवाडी एवं शिवमंदिर स्थित हैं। इसके अलावा हाइवे के किनारे पर संचालित इन शराब दुकानों से शराब खरीदने वाले ग्राहक अपने वाहन सड़क पर पार्क कर देते हैं। इस कारण छोटे बड़े वाहनों के आवागमन से जाम लगने और दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। इसलिए इन दोनों शराब दुकानों को भी हटाया जाएगा।जबकि ग्राम हमीरपुरा में भौरई रोड स्थित शराब दुकान से सौ फीट की दूरी पर अस्पताल व आंगनवाड़ी मौजूद है। जहा ग्रामवासियों की मांग पर इस शराब दुकान को हटाया जाएगा। विधायक ने बताया कि ग्राम बेड़िया में खरगोन रोड पर शराब दुकान से मात्र पचास फीट की दूरी पर शिवमंदिर और डेढ़ सौ फीट की दूरी पर स्कूल व अस्पताल संचालित है। इस शराब दुकान को भी जनहित में हटाया जाएगा। ग्राम बांगरदा के निवासी पंचायत भवन व आवासीय बस्ती के अत्यंत समीप स्थित शराब की दुकान को हटाने की मांग लंबे से करते आ रहे हैं।इन शराब दुकान को भी हटाया जाएगा। ग्राम भुलगांव में सनावद-भुलगांव मार्ग पर स्थित शराब दुकान के समीप सौ फीट की दूरी पर माताजी का मंदिर और राजपूत समाज की धर्मशाला स्थित है। ग्रामीणों ने इस शराब दुकान को हटाने की मांग की है। विधायक ने कहा कि ग्रामीणों की समस्या को देखते हुए इन शराब दुकानो को अन्य जगह स्थांतरण किया जायेगा। विधायक ने कहा कि ग्राम हीरापुर में सोसायटी के समीप स्थित शराब की दुकान प्राचीन और क्षेत्रवासियों की आस्था का केंद्र हीरई माता मंदिर के मार्ग पर स्थित है। इस शराब दुकान से पूरा ग्राम परेशान है। इसलिए इस शराब दुकान को हटाया जाएगा। ग्राम नलवां में बस स्टेंड के पास मौजूद शराब दुकान से पचास फीट की दूरी पर शिव मंदिर, दो सौ फीट की दूरी पर सरकारी स्कूल, पांच सौ फीट की दूरी पर आंगनवाड़ी स्थित है। जबकि ग्राम भोमवाड़ा में शिवमंदिर और आंगनवाड़ी से डेढ़ फीट की दूरी पर स्थित शराब दुकान को हटाने की मांग ग्रामवासियों ने की है।जिन्हे जल्द हटाया जाएगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co