इंडिया ऑटोनोमस कॉलेज रैंकिंग 2023-24
इंडिया ऑटोनोमस कॉलेज रैंकिंग 2023-24Raj Express

MP News: मध्यप्रदेश के 5 कॉलेज इंडिया ऑटोनोमस कॉलेज रैंकिंग 2023-24 में शामिल

MP News: इस रैंकिंग का उद्देश्य देश के स्कूलों से निकल कर स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए छात्रों को उचित शिक्षण संसथान ढूढ़ने में मदद करना है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) के कुल पांच शिक्षण संस्थानों (Educational Institutions) ने इंडिया ऑटोनोमस कॉलेज रैंकिंग (India Autonomous College Ranking) में अपनी जगह बनाई है। इन शिक्षण संस्थानों में से 2 जबलपुर (Jabalpur) तथा 3 प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में स्थित है। हर साल एजुकेशन वर्ल्ड (Education World) द्वारा भारत के 500 शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग जारी की जाती है। इसकी शुरुआत 2018 से हुई थी। इस रैंकिंग में आर्ट्स (Arts), साइंस (Science), इंजीनियरिंग (Engineering) आदि से सम्बंधित संस्थानों को रैंक दी जाती है। इस रैंकिंग का उद्देश्य देश के स्कूलों से निकल कर स्नातक पाठ्यक्रमों (Undergraduate Courses) के लिए छात्रों को उचित शिक्षण संसथान ढूढ़ने में मदद करना है।

भोपाल के इन शिक्षण संस्थानों को किया गया है शामिल :

प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में अनेक शिक्षण संस्थान है यहाँ दूसरे शहरों और राज्यों से भी छात्र-छात्राएं पड़ने के लिए आते हैं। भोपाल के इन तीन संस्थानों को मिली है इस रैंकिग में जगह

  • सर सत्य साई कॉलेज फॉर वीमेन भोपाल (Sir Satya Sai College for Women Bhopal) का स्कोर 467 और रैंकिंग 50 रही।

  • भोपाल स्कूल ऑफ़ सोशल साइंस (Bhopal School of Social Science) का स्कोर 465 रहा वहीं इसके रैंकिंग 52 थी।

  • वहीं साधू वासवानी कॉलेज (Sadhu Vaswani College Bhopal) भोपाल का स्कोर 459 रहा और लिस्ट में रैंकिंग 58 रही ।

भोपाल के अलावा जबलपुर के भी शिक्षण संस्थानों को किया गया है शामिल :

  • जबलपुर के सेंट अलयोसिस कॉलेज, जबलपुर (St. Aloysius College, Jabalpur) की रैंकिंग 57 और स्कोर 460 रहा।

  • इसके अलावा माता गुजरी महिला महाविद्यालय (Mata Gujri Women's College), जबलपुर की रैंकिंग 63 और स्कोर 454 रहा।

 मध्यप्रदेश के पांच शिक्षण इंडिया ऑटोनोमस कॉलेज रैंकिंग
मध्यप्रदेश के पांच शिक्षण इंडिया ऑटोनोमस कॉलेज रैंकिंग

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co