MP News : आडवाणी जी ने ऐसा क्या किया कि उन्हें 'भारत रत्न' देने का फैसला किया गया? - उमंग सिंघार

MP News : नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा, देशभर में साम्प्रदायिक उन्माद फैलाने में आडवाणी जी की बड़ी भूमिका रही।
Umang Singhar
Umang SingharSocial Media
Submitted By:
gurjeet kaur

हाइलाइट्स :

  • पीएम मोदी ने की थी LK आडवाणी को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा।

  • मध्यप्रदेश विधानसभा नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने उठाए सवाल।

  • LK आडवाणी भारत रत्न से सम्मानित होने वाले बीजेपी के दूसरे बड़े नेता।

मध्यप्रदेश। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा पर मध्यप्रदेश विधानसभा नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार (Umang Singhar) ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने पूछा है कि, 'लाल कृष्ण आडवाणी जी ने ऐसा क्या किया कि उन्हें 'भारत रत्न' देने का फैसला किया गया?' बता दें कि, भारत रत्न से सम्मानित होने वाले लाल कृष्ण आडवाणी बीजेपी के दूसरे बड़े नेता हैं इसके पहले अटल बिहारी वाजपेयी को इस सम्मान से नवाजा गया था।

कांग्रेस नेता और नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने एक्स पर एक पोस्ट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि, ये तो देश के सर्वोच्च सम्मान का अपमान ही कहा जाएगा !!! लालकृष्ण आडवाणी जी को सरकार ने 'भारत रत्न' देने की घोषणा की।.. मैं अभी तक समझ नहीं सका कि आखिर आडवाणी जी ने ऐसा कौनसा काम किया है कि उन्हें 'भारत रत्न' देने का फैसला किया गया? यह देश भूला नहीं है कि, देशभर में साम्प्रदायिक उन्माद फैलाने में आडवाणी जी की बड़ी भूमिका रही!

उमंग सिंघार पोस्ट
उमंग सिंघार पोस्टउमंग सिंघार एक्स अकाउंट

जब से मैं 14 साल की उम्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में स्वयंसेवक के रूप में शामिल हुआ, तब से मैंने केवल एक ही चीज़ में इनाम मांगा है - जीवन में मुझे जो भी कार्य सौंपा गया है, उसमें अपने प्यारे देश की समर्पित और निस्वार्थ सेवा करना। जिस चीज़ ने मेरे जीवन को प्रेरित किया है वह आदर्श वाक्य "इदं न मम" है - "यह जीवन मेरा नहीं है। मेरा जीवन मेरे राष्ट्र के लिए है।" यह बात लाल आडवाणी ने भारत रत्न मिलने की घोषणा के बाद कही थी। पूरी खबर पढ़ने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।

Umang Singhar
Bharat Ratna मिलने पर लाल कृष्ण आडवाणी ने कहा - मेरा जीवन राष्ट्र के लिए समर्पित

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co