Utrasound Machine
Utrasound MachineSocial Media

मोहना से अल्ट्रासाउंड कराने ग्वालियर नहीं आना होगा प्रसूताओं को, अल्ट्रासाउंड मशीन की मिली स्वीकृति

मोहना में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. सुप्रिया रोहित पदस्थ हुई हैं, जो गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउण्ड कर सकती हैं, इसलिए सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा ने अल्ट्रासाउण्ड मशीन की डिमांड भोपाल भेजी थी।

ग्वालियर,मध्यप्रदेश । मोहना से अल्ट्रासाउंड कराने के लिए प्रसूूताओं को ग्वालियर की ओर दौड़ नहीं लगानी होगी। क्योंकि, जल्द ही अल्ट्रासाउंड की सुविधा मोहना के शासकीय अस्पताल में शुरू होने वाली है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.मनीष शर्मा ने बताया कि मशीन की स्वीकृति मिल गई है। मशीन आते ही यहां अल्ट्रासाउंड की सुविधा शुरू कर दी जाएगी। 

मोहना शासकीय अस्पताल में अल्ट्रासाउण्ड सेवा उपलब्ध न होने के कारण गर्भवती महिलाओं को अल्ट्रासाउण्ड के लिए जिला अस्पताल या जयारोग्य चिकित्सालय के भरोसे रहना पड़ता है, लेकिन हाल ही में मोहना में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. सुप्रिया रोहित पदस्थ हुई हैं, जो गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउण्ड कर सकती हैं, इसलिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा ने अल्ट्रासाउण्ड मशीन की डिमांड भोपाल भेजी थी।  भोपाल से मोहना को अल्ट्रासाउण्ड की मशीन स्वीकृत हो गई है और जल्द ही अस्पताल में मशीन  आएगी। मोहना में अल्ट्रासाउण्ड की मशीन आने के बाद यहां की गर्भवती महिलाओं को जांच के लिए जयारोग्य या जिला अस्पताल में नहीं भटकना पड़ेगा। हालांकि मशीन मिलने के बाद भी सामान्य मरीजों को अल्ट्रासाउण्ड की सुविधा नहीं मिल सकेगी और उन्हें जयारोग्य या जिला अस्पताल के भरोसे ही रहना पड़ेगा, क्योंकि स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास सिर्फ गर्भवती महिलाओं का ही अल्ट्रासाउण्ड करने का ही प्रशिक्षण हैं। 

भितरवार व डबरा के लिए की मांग

सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा ने मोहना के साथ ही डबरा व भितरवार के लिए भी अल्ट्रासाउण्ड मशीन उपलब्ध कराने के लिए डिमांड भेजी है। लेकिन, अभी यहां के लिए मशीन खरीदने की स्वीकृति नहीं मिली है। स्वीकृति मिलते ही और मशीन आने के बाद यहां भी प्रसूताओं के अल्ट्रासाउंड करने की सुविधा शुरू की जायेगी। यहां बता दें कि डबरा एवं भितरवार में प्रथम श्रेणी की स्त्री रोग विशेषज्ञों की पदस्थापना भोपाल से हुई है। चिकित्सक पदस्थ होने के बाद सीएमएचओ ने डिमांड भोपाल भेज दी है। हालांकि उक्त दोनों अस्पतालों में भी अन्य  मरीजों को उल्ट्रासाउण्ड की सुविधा नहीं मिल सकेगी, क्योंकि दोनों स्त्री रोग विशेषज्ञ सिर्फ गर्भवती महिलाओं के ही अल्ट्रसाउण्ड कर पाती हैं।

रेडियोलॉजिस्ट की कमी से जूझ रहे अस्पताल

जिले के अधिकांश शासकीय अस्पताल रेडियोलॉजिस्ट की कमी से जूझ रहे हैं। कई बार रिक्त पदों को भरने की मांग करने के बाद भी रेडियोलॉजिस्ट चिकित्सकों की नियुक्ति नहीं की जा रही है। इस वजह से मरीजों को अल्ट्रासाउंड कराने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता है। कई बार इसके गंभीर परिणाम भी हमें देखने को मिलते हैं। 

इनका कहना है

मोहना के लिए मशीन अल्ट्रासाउंड मशीन स्वीकृत हो गई है। मशीन आने के बाद यहां प्रसूताओं के अल्ट्रासाउंड करने की सुविधा शुरू कर दी जाएगी। वहीं कलेक्टर के निर्देशानुसार डबरा और भितरवार के लिए भी मशीन की डिमांड भेजी है। मशीन उपलब्ध होने के बाद यहां भी प्रसूताओं के अल्ट्रासाउंड करने की सुविधा शुरू की जाएगी। 

डॉ.मनीष शर्मा,मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी 

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co