सिंगरौली घटना पर CM ने SDM को तुरंत हटाने के दिए निर्देश, कहा- हमारी सरकार में नारी सम्मान सर्वोपरि है

मध्यप्रदेश। सिंगरौली जिले में एक एसडीएम को महिला कर्मचारी द्वारा जूते पहनाने का मामला सामने आया, इस मामले में मुख्यमंत्री ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एसडीएम को हटाने के निर्देश दिये ।
एसडीएम को महिला कर्मचारी द्वारा जूते पहनाने का मामला
एसडीएम को महिला कर्मचारी द्वारा जूते पहनाने का मामलाSocial Media
Submitted By:
Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • सिंगरौली में एक एसडीएम को महिला कर्मचारी द्वारा जूते पहनाने का मामला

  • इस मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने की बड़ी कार्रवाई

  • CM ने इस घटनाक्रम को लेकर एसडीएम को तत्काल हटाने के निर्देश दिये

मध्यप्रदेश। एमपी के सिंगरौली जिले में एक एसडीएम को महिला कर्मचारी द्वारा जूते पहनाने का मामला सामने आया है। इस मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एसडीएम को हटाने के निर्देश दिये हैं।

सीएम ने दिए महिला से जूते बंधवाने वाले एसडीएम को हटाने के निर्देश:

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने सिंगरौली जिले में एक महिला कर्मचारी से अपने जूते बंधवाने वाले अनुविभागीय दंडाधिकारी (एसडीएम) को हटाने के निर्देश दिए हैं मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से की गई सोशल मीडिया पोस्ट के अनुसार मुख्यमंत्री ने कहा-"सिंगरौली जिले के चितरंगी में एसडीएम द्वारा एक महिला से उनके जूते के फीते बंधवाने का मामला सामने आया है, जो अत्यंत निंदनीय है। इस घटनाक्रम को लेकर एसडीएम को तत्काल हटाने के निर्देश दिये हैं। हमारी सरकार में नारी सम्मान सर्वोपरि है"

सिंगरौली घटना
सिंगरौली घटनाSocial Media

मामला सिंगरौली जिले का:

बता दें कि ये मामला सिंगरौली जिले का है जिले के चितरंगी तहसील अंतर्गत पदस्थ एसडीएम असवान राम चिरावन की एक महिला कर्मचारी से खुद के पैर में जूता पहनवाते हुए फोटो सोशल मीडिया पर हुई वायरल हुई। ये घटना श्री राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान चितरंगी में उस कार्यक्रम के लाइव प्रसारण की बताई जा रही है।

बताया जा रहा है कि महिला कर्मचारी विभागीय लिपिक है। जब अयोध्या में भगवान राम के प्राणप्रतिष्ठा कार्यक्रम का प्रसारण चल रहा था, उसी वक्त महिला ने एसडीएम को जूते पहनाए। जिले की चितरंगी विकासखंड में एसडीएम पद पर कार्यरत हैं। एसडीएम को जूते पहनाने की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद ये कार्रवाई हुई है।

इस मामले में एसडीएम असवन राम चिरावन का कहना:

मिली जानकारी के मुताबिक इस मामले में एसडीएम असवन राम चिरावन का कहना है कि मेरे पैर में कुछ दिन पहले चोट लगी थी, जिससे मेरे घुटने मुड़ नहीं रहे थे। वही जूते पहनाने वाली महिला का कहना है कि साहब के पैर में चोट की जानकारी थी।

बताते चलें कि, राज्य में मुख्यमंत्री डॉ यादव अधिकारियों से जुड़े ऐसे मामलों को लेकर लगातार सख्त बने हुए हैं। इसकी शुरुआत शाजापुर कलेक्टर के एक ट्रक चालक से अभद्र भाषा में बात करने से हुई थी। कलेक्टर का वीडियो सामने आने के फौरन बाद डॉ यादव ने उन्हें हटाने के निर्देश दिए थे। इसके बाद से मुख्यमंत्री अधिकारियों की बेअदबी और अभद्रता के कई मामलों में संबंधित अधिकारियों को हटाने के निर्देश दे चुके हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co