World Braille Day
World Braille DaySocial Media

ब्रेल लिपि के आविष्कारक आदरणीय लुई ब्रेल की जयंती पर सादर नमन करता हूं: CM

देशवासियों को विश्व ब्रेल दिवस की शुभकामनाएं देते हुए मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा अन्य नेताओं ने भी ट्विटर पर ट्वीट करते हुए उन्हें याद किया।

मध्यप्रदेश। आज महान ब्रेल लिपि के आविष्कारक लुई ब्रेल की जयंती हैं, जिन्होंने नेत्रहीन लोगों की पढ़ने-लिखने में मदद करने वाली ब्रेल लिपि का आविष्कारक किया था। दुनिया को ब्रेल लिपि देने वाले लुई ब्रेल भी देख नहीं सकते थे। ब्रेल लिपि दृष्टिहीन लोगों के लिए शिक्षा, लिखित संचार और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अहम साधन है। देशवासियों को विश्व ब्रेल दिवस की शुभकामनाएं देते हुए मध्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा अन्य ने भी ट्विटर पर ट्वीट करते हुए उन्हें याद किया है।

ट्विटर पर CM शिवराज सिंह चौहान लिखते हैं कि, "ब्रेल लिपि से हमारे दृष्टिहीन भाई-बहनों का जीवन न केवल सरल हुआ, अपितु उनके आत्मविश्वास में भी अभूतपूर्व वृद्धि हुई। दृष्टिहीन भाई-बहनों के जीवन में आशा की इस अनूठी किरण से उजाला करने वाले ब्रेल लिपि के आविष्कारक आदरणीय लुई ब्रेल को #WorldBrailleDay पर सादर नमन् करता हूं।''

सीएम शिवराज के अलावा CM अशोक गहलोत ने भी ब्रेल लिपि के आविष्कारक आदरणीय लुई ब्रेल याद करते हुए उनके त्याग और बलिदान को नमन किया हैं। अशोक गहलोत लिखते हैं कि, "विश्व ब्रेल दिवस पर नेत्रहीनों के लिए अनुकूल परिस्थितियाँ प्रदान करने का संकल्प लें। हमें उनके अधिकारों की रक्षा करने और उनकी प्रगति सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। नेत्रहीनों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए नवाचारों, तकनीकी प्रगति को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए"

ब्रेल लिपि बिंदुओं का कोड :

ब्रेल वास्तव में एक तरह का कोड है। इसे अक्‍सर भाषा के तौर पर देखा जाता है। इसके अंतर्गत उभरे हुए 6 बिंदुओं की तीन पंक्तियों में एक कोड बनाया जाता है। इन्हीं में पूरे सिस्टम का कोड छिपा हुआ होता है। ये तकनीक अब कंप्यूटर में भी उपयोग में लाई जाती है, जिसमें गोल व उभरे बिंदु होते हैं। इससे नेत्रहीन लोग अब तकनीकी रूप से काम करने के काबिल हो रहे हैं।

2018 में आधिकारिक तौर पर स्वीकारा :

लिपि बनने के सौ साल तक इसे स्वीकार ही नहीं किया जा सका और जब इसे स्वीकार किया गया है। संयुक्त राष्ट्र आम सभा ने नवंबर 2018 को आधिकारिक तौर पर 4 जनवरी को विश्व ब्रेल दिवस मनाने का फैसला किया। इसके बाद 4 जनवरी 2019 को पहला विश्व ब्रेल दिवस मनाया गया। तभी से इसके आविष्कारक लुईस ब्रेल (Luis Braille) के सम्मान में हर साल चार जनवरी को उनके जन्मदिन पर विश्व ब्रेल दिवस (World Braille Day 2023) मनाया जाता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co