कमलनाथ का बयान
कमलनाथ का बयान Raj Express

बालाघाट मामले में गरमाई सियासत, कांग्रेस ने कहा- “कलेक्टर हटाओ, प्रजातंत्र बचाओ”

बालाघाट मामले में मध्यप्रदेश कांग्रेस ने कहा कि, कलेक्टर को बचाने के लिये तहसीलदार के बाद अब एसडीएम पर निलंबन की गाज।

MP Election 2023: एमपी में 3 दिसंबर को होने वाले मतगणना का इंतजार किया जा रहा है। इस बीच बालाघाट जिले में मतगणना से पहले स्ट्रॉन्ग रूम में डाक मतपत्रों की पेटी खुलने के मामले पर सियासत गरमाई है। बालाघाट में मतगणना से पहले डाक मत पेटी खोलने वाले हिम्मत सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। इसे लेकर कांग्रेस हमलावर बनी हुई और बालाघाट कलेक्टर को हटाने की मांग की है।

बालाघाट मामले में अजब खेल जारी: कांग्रेस

इस मामले में मध्यप्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा- बालाघाट मामले में अजब खेल जारी, कलेक्टर को बचाने के लिये तहसीलदार के बाद अब एसडीएम पर निलंबन की गाज; चुनाव आयोग बताये, क्या कलेक्टर सिर्फ़ शोभा बढ़ाने के लिये हैं, या जिला निर्वाचन अधिकारी होने के नाते उनकी कोई जिम्मेदारी भी होती है “कलेक्टर हटाओ, प्रजातंत्र बचाओ”

कलेक्टर बालाघाट ने कबूली धांधली, कलेक्टर ने स्वीकारा कि नियम विरूद्ध खोला गया स्ट्रांग रूम, राजनीतिक दलों को जो समय दिया उससे पहले ही स्ट्रांग रूम खोल लिया गया। जो कुछ भी बालाघाट में हुआ वो असामान्य है। हे! चुनाव आयोग, कब निलंबित होंगे धांधलीबाज कलेक्टर

कांग्रेस

कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा- पारदर्शिता और कर्तव्यनिष्ठा लोकतंत्र के बुनियादी उसूल हैं। कल बालाघाट में डाक मतपत्रों को जिस तरह से खोला गया, वह गंभीर कदाचरण है। उसके बाद सरकारी मशीनरी और जिम्मेदार अधिकारियों ने जिस तरह से इस कृत्य को सही साबित करने की कोशिश की, वह और भी अक्षम्य अपराध है।मैं चुनाव प्रक्रिया में शामिल सभी अधिकारी और कर्मचारियों को याद दिलाना चाहता हूं कि इस समय वह निर्वाचन आयोग के अंतर्गत कार्य कर रहे हैं, जो मध्य प्रदेश सरकार से अलग एक स्वायत्त संस्था है। वे इस समय किसी पार्टी या मंत्री के मातहत काम नहीं कर रहे हैं।

इसलिए सभी अधिकारी कर्मचारियों से निवेदन है कि वह किसी भी असंवैधानिक या गैरकानूनी आदेश का पालन न करें और सिर्फ वही कार्य करें जो करना उनका प्रशासनिक दायित्व है। एक-एक अधिकारी और कर्मचारी की कार्यप्रणाली की रिपोर्ट जनता के पास है। मैं कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से भी आग्रह करता हूं कि वह अपने संवैधानिक अधिकारों के लिए कड़े से कड़े संघर्ष के लिए तैयार रहें। 3 दिसंबर को मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार पर जनता की मोहर लग जाएगी। इसलिए वे निर्द्वंद्व होकर अपने कार्य में जुट जाएं। सत्यमेव जयते।

बता दें, चुनाव के नतीजों से पहले बालाघाट में सोमवार को स्ट्रांग रूम में पोस्टल बैलेट से छेड़छाड़ का कथित वीडियो सामने आया। इसमें कुछ कर्मचारी पोस्टल बैलेट को इकट्‌ठा करते दिख रहे हैं। जिसके बाद जिसके बाद कांग्रेस चुनाव प्रभारी ने आयोग से शिकायत की, कांग्रेस की शिकायत के बाद चुनाव आयोग ने नोडल अधिकारी हिम्मत सिंह भवेड़ी को सस्पेंड कर दिया और जिला निर्वाचन अधिकारी कलेक्टर डॉ. गिरीश मिश्रा को जांच के आदेश दिए है

शिकायत
शिकायत Social Media

ये भी पढ़े-

कमलनाथ का बयान
बालाघाट में अभ्यर्थियों को बिना सूचना दिए डाक मतपत्रों की पेटियां खोलने का आरोप, अरुण यादव ने लगाया आरोप

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co