बारूद के ढेर पर बैठा हरदा- आज रेवापुर माइनर के पास मिली सुतली बम से भरी बोरियां

मध्यप्रदेश। हरदा में कार्रवाई के डर से लोग पटाखे बोरियों में भरकर फेंक रहे हैं, रेवापुर माइनर के पास पटाखों से भरी 7 बोरियां पड़ी मिली।
आज मिली सुतली बम से भरी 7 बोरियां
आज मिली सुतली बम से भरी 7 बोरियांSocial Media
Submitted By:
Priyanka Yadav

हाइलाइट्स:

  • हरदा में कार्रवाई के डर से लोग फेंक रहे पटाखे

  • आज रेवापुर माइनर के पास मिली बम से भरी 7 बोरियां

  • ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने पटाखों से भरी बोरियों को जब्त किया

मध्यप्रदेश। एमपी का हरदा (Harda) शहर बारूद के ढे़र पर हैं। हरदा में हुए भीषण हादसे के बाद से जिले भर में पटाखे का अवैध कारोबार करने वाले व्यापारियों में हड़कंप मचा हुआ है, हरदा में कार्रवाई के डर से लोग पटाखे बोरियों में भरकर फेंक रहे हैं।

पटाखों से भरी मिली 7 बोरियां :

पटाखा फैक्ट्री ब्लास्ट के बाद से हरदा जिले में बारूद का जखीरा लगातार मिल रहा है। रविवार सुबह हरदा जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम पलासनेर में रेवापुर माइनर के पास पटाखों से भरी 7 बोरियां पड़ी मिली। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने पटाखों से भरी बोरियों को जब्त किया वहीं पटाखों को फेंकने वालों की तलाश शुरू कर दी।

पटाखा फैक्ट्री के पास 16 ड्रमों में मिले थे हजारों सुतली बम:

शनिवार को पटाखा फैक्ट्री के पास से मलबा हटाने के दौरान 16 ड्रमों में हजारों सुतली बम मिले थे इन्हें पटाखों को प्रशासन ने पानी डालकर नष्ट करवाया था। इससे पहले सिराली नगर परिषद के सरकारी वाहन से 5 क्विंटल से ज्यादा सुतली बम नहर किनारे आधी रात अंधेरे में फेंके गए थे। वहीं शुक्रवार को हरदा में रेलवे पटरी किनारे झाड़ियों में 75 बारूद से भरी बोरियां लावारिस हालत में फेंकी गई थी।

ये भी पढ़े :

बीते दिनों हरदा के बैरागढ़ क्षेत्र में कथित तौर पर अवैध रूप से संचालित पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट के बाद भीषण आग लग गयी थी। इस भीषण दुर्घटना कि चपेट में आने से 11-13 लोगों की मौत हो गई है वही बड़ी संख्या में कई घायल हुए।

आज मिली सुतली बम से भरी 7 बोरियां
Harda Fire Accident Follow-Up: पटाखों की फैक्ट्री में भीषण आग लगने से दलहा हरदा- अब तक 11 से 13 लोगों की मौत!

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co