करीब 80 किलोमीटर पैदल चलकर राजधानी पहुंचे स्कूली बच्चे
करीब 80 किलोमीटर पैदल चलकर राजधानी पहुंचे स्कूली बच्चेSudha Choubey - RE

करीब 80 किलोमीटर पैदल चलकर राजधानी पहुंचे स्कूली बच्चे, कमलनाथ को सीएम बनाने की जाहिर की इच्छा

सीहोर के आष्टा से करीब 80 से ज्यादा किलोमीटर का सफर तय कर स्कूली छात्र भोपाल पहुंचे है। बच्चों ने कमलनाथ को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने की इच्छा जाहिर की है।

हाइलाइट्स-

  • भोपाल से हैरान करने वाला मामला आया सामने

  • करीब 80 किलोमीटर पैदल चलकर राजधानी पहुंचे स्कूली बच्चे

  • कमलनाथ को सीएम बनाने की जाहिर की इच्छा

  • भोपाल पहुंचे बच्चों ने कमलनाथ को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने की इच्छा जाहिर की

  • बच्चों ने कमलनाथ से मुलाकात कर दी अपनी गुल्लक

भोपाल, मध्य प्रदेश। एमपी की राजधानी भोपाल से हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां आज सीहोर के आष्टा से करीब 80 से ज्यादा किलोमीटर का सफर तय कर स्कूली छात्र भोपाल पहुंचे है। भोपाल पहुंचे बच्चों ने कमलनाथ को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने की इच्छा जाहिर की है। यहां पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बच्चों की इस इच्छा को जानकर उनसे मुलाकात की, बच्चों ने इस दौरान कमलनाथ से मुलाकात कर अपनी गुल्लक दी। बच्चों ने कहा कि, ये पैसे उन्होंने अपनी पॉकेट मनी से बचाकर इकट्ठा किए हैं। वहीं, कमलनाथ ने बच्चे का तोहफा स्वीकार करते हुए गुल्लक को अपने पास रख लिया।

बच्चों ने कही यह बात:

इस मुलाकात के दौरान बच्चों ने बताया कि, "वो सीहोर के आष्टा से पैदल चलकर आए हैं। कमलनाथ से मिलकर उन्हें अच्छा लगा। उनको भावी सीएम के रूप में देखना चाहते हैं। वहीं बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए बच्चों ने कहा कि, शिवराज सरकार में एजुकेशन सिस्टम सही नहीं है।"

जानकारी के लिए बता दें कि, जब भारत जोडो यात्रा एमपी आई थी तो इन्हीं बच्चों ने राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी। खंडवा में बच्चों ने राहुल गांधी से मुलाकात कर उनको भी गुल्लक दी थी और कहा था कि पिछले 78 दिन से पैसे जमा कर रहे थे। ये पैसे यात्रा के दौरान काम पड़ सकते हैं। वहीं राहुल गांधी ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा था कि त्याग और स्वार्थहीनता बचपन में मिले संस्कारों से आते हैं। ये गुल्लक मेरे लिए अनमोल है, बेशुमार प्यार का खजाना है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co