आग की लपटों में गुजरा सोमवार
आग की लपटों में गुजरा सोमवारSocial Media

आग की लपटों में गुजरा सोमवार- मध्यप्रदेश में सप्ताह की शुरुआत में आग लगने की कई घटनाएं घटीं

मध्यप्रदेश: सप्ताह के शुरूआती दिन सोमवार में ही एमपी में आग के हादसों की लड़ी लग गई है। एमपी के रीवा- सतना और मुरैना में आग लगने की घटनाएं सामने आई है।

मध्यप्रदेश। सप्ताह के शुरूआती दिन सोमवार में ही एमपी में आग के हादसों की लड़ी लग गई हैं। सोमवार आग के हादसों से भरा रहा। कही सिलेंडर तो कहीं सलून में आग, फर्नीचर के गोदाम में और हॉस्पिटल में आग जैसे मामले सामने आ रहे हैं। एमपी के रीवा-सतना और मुरैना में आग लगने की घटनाएं सामने आई हैं।

प्रदेश में आग की लपटों में गुजरा सोमवार :

आज का दिन मध्यप्रदेश में आग की लपटों से भरा रहा है। एमपी के कई जिलों में आग से होने वाले हादसों में दिनों-दिन बढ़ोत्तरी हो रही है। हाल ही में एमपी के रीवा, सतना और मुरैना से आगजनी की घटना सामने आई है। इन जिलों में आग लगने के हादसों में लोगों को नुकसान उठाना पड़ रहा है और वहीँ रीवा में आग के हादसे में माँ और बेटे ने जान गवाई है।

रीवा में सिलेंडर फटा, माँ बेटे की हुई मौत :

रीवा जिले के मनगवां थाना अंतर्गत कच्चे घर में आग लगने से मां और बेटे की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक सोमवार दोपहर 1 बजे घर में खाना पक रहा था। इसी बीच आग लग गई। जब तक महिला कुछ करती, तब तक आग ज्यादा फैल गई। फायर ब्रिगेड और भारी संख्या में पुलिस बल पहुंचा,तब तक मां बेटे आग में दम तोड़ चुके थे। मां की उम्र 25, और बेटे की उम्र एक साल है। शुरुआत में सिलेंडर फटने की बात सामने आई थी, लेकिन पुलिस का कहना है कि सिलेंडर सुरक्षित है। फिलहाल पुलिस जांच में जुटी हैं।

फर्नीचर के गोदाम में लगी आग लाखों का हुआ नुकसान :

रिहायशी बस्ती में बने इस फर्नीचर गोदाम में आग लगने से आसपास के लोग दहशतजदा हो गए। हालांकि चार दमकल वाहनों की मदद से आग पर काबू पा लिया गया है। जानकारी के अनुसार सतना शहर की रीवा रोड पर सीएमए स्कूल के सामने स्थित छतरपुर फर्नीचर के गोदाम में देर रात अचानक आग लगने की खबर से हड़कंप मच गया। यह गोदाम एक बड़े कारोबारी का है और काफी गहराई तक फैला हुआ है। गोदाम के अंदर से धुआं और आग की लपटें उठती देख लोगों में दहशत फैल गई। लोग बड़े हादसे की आशंका से भयभीत हो गए।

आग लगने की सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की एक के बाद एक चार दमकल गाड़ियां मौके पर पहुंचीं। घंटों की मशक्कत के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया। इस आग से व्यापारी का लाखों का फर्नीचर जलकर खाक हो गया। बता दें कि इससे पहले भी शुक्रवार को देर रात ही रीवा रोड पर ही स्थित बार्बी सलून में आग लगी थी। जिसमे दुकानदार को भी नुकसान उठाना पड़ा था।

मध्यप्रदेश के एक जिला अस्पताल में आग लगने के समय क्या किया जाना चाहिए विषय को लेकर एक्सपर्ट की मौजूदगी में नर्सो तथा गार्ड और सफाई कर्मचारियों को ट्रैंनिंग देकर बचाव के रास्ते बताए गए। जिससे आग लगने की स्थिती में जल्दी काबू पाया जा सके।

हॉस्पिटल में लगी सांकेतिक आग नर्सों ने बुझाई :

प्रदेशभर में आग लगने के हादसे बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में एमपी के हॉस्पिटल में नई पहल शुरू की गई है,जिसमे सांकेतिक आग लगाने के बाद उसे बुझाने या उस पर काबू पाने के लिए हॉस्पिटल में मौजूद नर्सों को ट्रैंनिंग दी जा रही है। हॉस्पिटल में आग लगने के कई हादसे हो चुके हैं। ऐसी स्थिति में अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर्स, नर्सिंग व पैरामेडिकल स्टाफ क्या एहतियात बरते, इसको लेकर जिला अस्पताल में बीते रोज एक मॉकड्रिल की गई। मौके पर ही मौजूद एक्सपर्ट ने कुछ कमियां पाए जाने पर उसमें सुधार कराया। मॉकड्रिल दौरान स्टाफ नर्स सहित सिक्योरिटी गार्ड, सफाईकर्मी व अन्य स्टाफ मौजूद था।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co