प्रधानमंत्री ने पिछले 5 वर्षों में केरल के विकास के लिए 1 लाख 14 हजार करोड़ दिए: शिवराज

मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, केरल की पवित्र भूमि पर आकर अत्यंत प्रसन्न हूँ, केरल प्रगति तथा विकास करे और लगातार आगे बढ़े, यही शुभकामनाएं।
शिवराज सिंह चौहान
शिवराज सिंह चौहानSocial Media
Submitted By:
Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • शिवराज ने केरल के कोट्टयम में विकसित भारत संकल्प यात्रा के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम में सहभागिता की

  • इस अवसर पर शिवराज ने उपस्थित हितग्राहियों से चर्चा की और उज्ज्वल भविष्य हेतु शुभकामनाएं दी

  • शिवराज सिंह चौहान ने कहा- प्रधानमंत्री ने केरल के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है

"केरल की पवित्र भूमि पर आकर अत्यंत प्रसन्न हूँ, केरल प्रगति तथा विकास करे और लगातार आगे बढ़े, यही शुभकामनाएं। प्रधानमंत्री ने केरल के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है, पिछले 5 वर्षों में केरल के विकास के लिए 1 लाख 14 हजार करोड़ दिए हैं" ये बात मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कही है।

कार्यक्रम में शिवराज ने की सहभागिता

आज केरल के चिगवनम से प्रधानमंत्री द्वारा 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' के हितग्राहियों से वर्चुअली संवाद कार्यक्रम को मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कार्यकर्ताओं तथा स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ सुना। केरल के चिगवनम में विकसित भारत संकल्प यात्रा के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम में सहभागिता कर शिवराज ने उपस्थित नागरिकों को संबोधित किया तथा विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से चर्चा की।

कार्यक्रम में शिवराज ने कही ये बात-

इस दौरान शिवराज ने कहा कि, 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' लाखों-करोड़ों हितग्राहियों के जीवन में समृद्धि तथा खुशहाली का नया उजियारा लाई है। गरीब कल्याण की प्रतिज्ञा और विकसित भारत के संकल्प के साथ मोदी जी के विकास की गारंटी वाली गाड़ी जन-जन के द्वार तक पहुंच रही है।

'विकसित भारत संकल्प यात्रा' अद्भुत कार्यक्रम है: शिवराज

शिवराज सिंह चौहान बोले- 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' अद्भुत कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री की गारंटी वाली गाड़ी केरल के गाँव-गाँव में जा रही है और वंचित हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दे रही है। मैं केरल में इस यात्रा में आकर अत्यंत प्रसन्न हूँ। मुझे प्रसन्नता इस बात की भी है कि उस पवित्र धरती पर भी आया, जहाँ आदि शंकराचार्य जी ने जन्म लिया। सीएम ने कहा- भारत की जड़ों में आचार्य शंकर का ज्ञानामृत है, उनके विचार सदियों से हमारी स्मृति में गुंजित हैं। मेरा सौभाग्य है कि केरल के कालड़ी में सनातन धर्म के पुनरूद्धारक पूज्य भगवदपाद आद्य शंकराचार्य जी के जन्मस्थान के दर्शन का अवसर मिला।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co