SIMI आतंकी भूख हड़ताल पर
SIMI आतंकी भूख हड़ताल परSocial Media

भोपाल के केंद्रीय जेल में फिर SIMI आतंकी भूख हड़ताल पर, इन मांगों को लेकर अड़े...

Bhopal Central Jail SIMI Terrorist Hunger Strik: भोपाल के केंद्रीय जेल में स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के आतंकियों की भूख हड़ताल जारी है।

हाइलाइट्स :

  • भोपाल के केंद्रीय जेल में सिमी आतंकियों की भूख हड़ताल जारी

  • सिमी आतंकियों की भूख हड़ताल का आज पांचवा दिन

  • आतंकी अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे है

Bhopal Central Jail SIMI Terrorist Hunger Strik: भोपाल के केंद्रीय जेल में स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) आतंकियों की भूख हड़ताल जारी है, सिमी आतंकियों की भूख हड़ताल का आज पांचवा दिन है। आतंकी अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे है।

सिमी आतंकियों की मांगे :

मिली जानकारी के मुताबिक, भोपाल सेंट्रल जेल के हाई सिक्योरिटी सेल में रखे गए सिमी के आतंकी फिर भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। ऐसे में आतंकियों ने जेल परिसर में दिन भर खुले में रहने, नमाजी टोपी लगाने, सामूहिक नमाज पढ़ने, न्यूज पेपर और लाइब्रेरी सुविधा देने की मांग भी कर रहे हैं। इसके पहले भी सिमी आतंकी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल कर चुके हैं। उस वक्त जेल प्रबंधन ने सुरक्षा का हवाला देकर उनकी मांगों को मानने से इनकार कर दिया था।

कौन हैं ये आतंकी:

जानकारी के अनुसार भूख हड़ताल पर बैठे ये चारों कैदी आतंकी संगठन सिमी से हैं। इन कैदियों का नाम अबू फैसल, कमरुद्दीन, शिवली, कामरान है। जेल के अधिकारियों द्वारा भूख हड़ताल पर बैठे कैदियों का स्वास्थ्य का परिक्षण कराया जा रहा है। भूख हड़ताल की शुरुआत अबू फैजल और कमरान द्वारा की गई।

इन दोनों की भूख हड़ताल में अन्य 2 कैदियों भी शामिल हो गए। इन चारों कैदियों को देश विरोधी गतिविधि के कारण भोपाल भोपाल जेल में हाई सिक्योरिटी में रखा गया है। इन चार आतंकियों में से 2 (कमरुद्दीन, शिवली) को आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं। ये कैदी अखबार, लाइब्रेरी, घड़ी और सामूहिक नमाज पढ़ने देने की मांग कर रहे थे जिसे सुरक्षा कारणों से जेल प्रशासन द्वारा नामंजूर कर दिया गया था। इसके बाद से ये चारों भूख हड़ताल कर रहे हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co