शिवराज मामा से जुड़े खास तथ्‍यों पर एक नजर
शिवराज मामा से जुड़े खास तथ्‍यों पर एक नजरSocial Media

Shivraj Birthday: मध्‍य प्रदेश के विकास में अहम भूमिका निभाने वाले शिवराज मामा से जुड़े खास तथ्‍यों पर एक नजर

Shivraj Singh Chouhan Birthday: मध्‍य प्रदेश के सबसे लोकप्रिय नेता एवं बुलडोजर मामा शिवराज सिंह का जन्‍मदिन है। अपनी अमीट छवी बनाने में विख्‍यात शिवराज के जीवन से जुड़े खास पहलूओं पर एक नजर डालें...

Shivraj Singh Chouhan Birthday: मध्य प्रदेश की भारतीय राजनीति में आज 5 मार्च का दिन बेहद ही खास है, क्‍योंकि आज प्रदेश के सबसे लोकप्रिय नेता एवं बुलडोजर मामा के रूप में माने जाने वाले शिवराज सिंह चौहान का जन्‍मदिन है। अच्‍छे कार्य कर प्रदेश में अपनी अमिट छबि बना रखी है। मध्य प्रदेश के राजनीतिक मानसिकता को बदला और राज्य के विकास में अहम भूमिका निभाई है।

प्रदेश की महिलाओं को आज देंगे बड़ी सौगात :

5 मार्च, 1959 को सीहोर जिले के नर्मदा किनारे स्थित एक छोटे से गांव जैत में मध्यमवर्गीय परिवार में जन्‍मे शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर कई विकास कार्यक्रमों को शुरू किया, जिनमें सड़कों का निर्माण, शिक्षा, स्वास्थ्य और जल संसाधन का विकास शामिल है। मध्य प्रदेश के विकास में अहम भूमिका निभाते आ रहे CM शिवराज आज 'सशक्त नारी से ही होगा सशक्त समाज का निर्माण' के साथ प्रदेश की महिलाओं को बड़ी सौगात देने जा रहे है। दरअसल, वे आज अपने 64वें जन्‍मदिन के अवसर पर 'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना' का भव्य शुभारंभ हो रहा है, इस विशाल कार्यक्रम का आयोजन भोपाल के जम्बूरी मैदान में हो रहा है।

क्‍या है इस योजना में :

चुनावी साल में मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार प्रदेश की करीब एक करोड़ बहनों को ‘लाड़ली बहना योजना’ का लाभ दे रहे ही है। प्रदेश की बहनों के लिए सरकार द्वारा लाई गई इस बड़ी योजना के तहत गरीब या मध्यमवर्गीय परिवार की महिलाओं को प्रति माह 1000 रूपए मिलेगा। योजना द्वारा महिलाओं को मिलने वाली राशी से महिलाओं को प्रतिवर्ष 12,000 रूपए, जबकि पांच साल में 60,000 रूपए का लाभ मिलेगा।

शिवराज मामा से जुड़े खास तथ्‍यों पर एक नजर
लाड़ली बहना योजना : अब प्रदेश की महिलाओं को हर महीने मिलेंगे एक हजार रूपए, जानिए योजना की शर्तें

मध्य प्रदेश के राजनीतिक मानसिकता को बदला :

CM शिवराज सिंह चौहान ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत मध्य प्रदेश के छोटे-छोटे गांवों से की थी। उन्होंने स्थानीय राजनीति में अपना नाम किया और बाद में उन्हें राज्य सभा का सदस्य बनाया गया। उन्होंने मध्य प्रदेश के राजनीतिक मानसिकता को बदला है।

एक नजर शिवराज के जीवन से जुड़े खास तथ्‍यों पर :

CM शिवराज सिंह चौहान के राजनीतिक सफर का सफलता का ग्राफ हमेशा उठता ही देखा गया है, तो नजर उनके जीवन से जुड़े खास तथ्‍यों पर-

सबसे पहले यह पता होगा चाहिए कि, आखिर शिवराज सरकार द्वारा कब से मध्यप्रदेश की सत्ता संभाली गई है। दरअसल, वे साल 2005 से मध्यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री पद की बागडोर संभाले हुए है। रोचक बात तो यह है कि, CM शिवराज 13 साल की उम्र में आरएसएस से जुड़े और राष्‍ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता के रूप में अपनी सेवाएं को प्रारंभ किया।

  • साल 1975 में पहली बार वो मॉडल स्कूल में संघ अध्यक्ष बनें।

  • 1977-78 में वो एबीवीपी में संगठन मंत्री बने।

  • साल 1978 से 1980 तक मध्यप्रदेश में एबीवीपी के संयुक्त मंत्री रहे।

  • 1980 से 1982 तक अखिल भारतीय विधार्थी परिषद के प्रदेश महासचिव रहे।

  • 1982-1983 में परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्य चुने गए।

  • शिवराज ने पहली बार 1990 में बुधनी विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा चुनाव लड़ा और विधायक बने।

  • शिवराज सिंह 5 बार सांसद एवं बुधनी से 5 बार विधायक बने।

  • वे 2003, 2008 और 2013 में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।

  • साल 2018 में बीजेपी बहुमत से दूर रहने की वजह से वे CM पद अपने कब्‍जे में नहीं ले पाए और इस दौरान कांग्रेस पार्टी ने चुनाव जीता, लेकिन अल्पमत में आने के बाद कमलनाथ ने इस्तीफा दिया और शिवराज की सरकार फिर से MP की सत्‍ता में आ गई।

  • अब इस साल 2023 में विधानसभा चुचना होंगे, जिसके लिए राजनीतिक पार्टी की तैयारी जोरों से चल रही है।

इसके साथ ही इस साल 2023 का बजट भी हाल ही के दिनों में पेश हुआ है। इस दौरान शिवराज सरकार ने अपने इस साल के बजट में क्‍या-क्‍या खास ऐलान किए, यह जानने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें-

शिवराज मामा से जुड़े खास तथ्‍यों पर एक नजर
MP Budget 2023: विधानसभा में उम्मीदों का बजट पेश, जानें मामा के खजाने में इस बार क्‍या है खास...

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co